न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

योग दिवस कार्यक्रम से बनेगी रांची की अंतर्राष्ट्रीय पहचान: डॉ. डीके तिवारी

योग दिवस कार्यक्रम की सफलता के लिए अधिकारियों और विभिन्न संस्थाओं के प्रमुखों के साथ बैठक

372

Ranchi: मुख्य सचिव डॉ. डीके तिवारी ने योग दिवस 21 जून के मुख्य कार्यक्रम के लिए रांची का चुनाव करने के लिए केंद्र सरकार का आभार जताया है.

उन्होंने कहा कि इसके आयोजन से रांची की अंतर्राष्ट्रीय पहचान बनेगी. रांची में विदेशी मीडिया प्रतिनिधियों के साथ कई अन्य लोग भी जुटेंगे.

कार्यक्रम के ग्लोबल प्रसारण के साथ उसमें रांची शहर की खूबियां भी झलकेंगी. इससे भविष्य में पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा. मुख्य सचिव आज झारखंड मंत्रालय में योग दिवस कार्यक्रम को लेकर सभी विभागों, संगठनों और संस्थाओं के साथ तैयारियों में समन्वय बनाने के लिए आहूत बैठक को संबोधित कर रहे थे.

इसे भी पढ़ेंःBlood Doner’s Day special: बिना रिप्लेसमेंट के खून देने के हैं निर्देश, डोनर के बाद भी रिम्स नहीं दे रहा ब्लड

स्वच्छता का रखें ध्यान

मुख्य सचिव ने पूर्व में देश में योग दिवस के मुख्य कार्यक्रमों की फीड बैक लेते हुए रांची के कार्यक्रम को स्वच्छ एवं साफ सुथरा बनाने पर बल दिया.

उन्होंने निर्देश दिया कि पूरा प्रशासन कार्यक्रम के दौरान स्वच्छता, समय और सुरक्षा को प्राथमिकता दें. इसके लिए तय हुआ कि कार्यक्रम के दौरान पानी के बोतल वितरित नहीं किए जाएंगे.

उसकी जगह घड़े का पानी उपलब्ध कराया जायेगा. कार्यक्रम स्थल और उसके बाहर टॉयलेट की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया गया. साथ ही योग करने आए प्रतिभागियों को असुविधा नहीं हो, इसके लिए जगह-जगह साइनेज लगाने का भी निर्देश दिया गया.

नाश्ता का पैकेट कार्यक्रम की समाप्ति के बाद प्रतिभागियों को दिया जाएगा. वहीं कार्यक्रम की समाप्ति के बाद प्रतिभागियों से अपील करने को कहा कि वे अपना कोई सामान कार्यक्रम स्थल पर छोड़ कर नहीं जाएं, जिससे गंदगी फैले.

Related Posts

अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ 16 सूत्री मांगों को लेकर 31अगस्त को मुख्यमंत्री का घेराव करेगा

जनसंपर्क अभियान लगातार जारी है. संघ के अनुसार  इस बार आर पार की लड़ाई लड़ने को शिक्षक तैयार है.

SMILE

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक: फॉरेस्ट डिपार्टमेंट की नौकरी छोड़ बने पारा शिक्षक, अब मानदेय के अभाव में बने कर्जदार

सुबह 3 से 5 बजे तक इंट्री

कार्यक्रम में भाग लेनेवाले आम लोगों के लिए इंट्री का समय सुबह 3 से 5 बजे तक होगा. लोग समय से पहुंचे इसके लिए जिला प्रशासन को पर्याप्त बसों को विभिन्न मार्गों पर परिचालन का निर्देश दिया गया.

वहीं वीआइपी प्रतिभागियों के लिए सुबह 6 बजे तक प्रवेश की सुविधा होगी. उसके बाद कोई भी प्रवेश नहीं कर पाएगा.

बारिश की आशंका को लेकर विशेष तैयारी

कार्यक्रम के समय बारिश की आशंका के मद्देनजर प्रशासन को विशेष व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया. प्रतिभागियों के मोबाइल और जूतों को बारिश से बचाव के लिए प्लास्टिक कवर दिए जाएंगे. प्रतिभागियों को अनावश्यक सामान नहीं लाने का अनुरोध करते हुए बारिश के समय उन्हें अपने स्थान पर बने रहने का सुझाव दिया गया.

इसे भी पढ़ेंःसाल के अंत तक अनुसूचित जाति/जनजाति के 20 लाख लोगों को पाइपलाइन से मिलेगा पानी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: