न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पीएम पद की दौड़ में शामिल हुए यशवंतः कहा- हर साल दे सकता हूं 2-3 करोड़ रोजगार

907

New Delhi: मोदी के खिलाफ विपक्ष एकजुट तो हो रहा है. लेकिन सबसे बड़ा सवाल ये है कि इस महागठबंधन में पीएम पद का दावेदार कौन होगा. राहुल गांधी के अलावे ममता बनर्जी, मायावती का नाम पहले ही सामने आ चुका है. अब पीएम की रेस में पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा का नाम भी जुड़ रहा है. कोलकाता में 22 दलों के 44 नेताओं के बीच ममता के मंच पर मौजूद रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने देश का रोजगार संकट दूर करने वाले प्रधानमंत्री के तौर पर खुद को सबसे प्रबल दावेदार बताया है.

पीएम की रेस में यशवंत !

अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वित्त मंत्री रहे यशवंत सिन्हा ने एक टीवी शो के दौरान अपने पीएम पद की दावेदारी की इच्छा जाहिर की है. दरअसल, शो में चर्चा के दौरान यशवंत सिन्हा से सवाल किया गया कि देश में हर साल 1.2 करोड़ रोजगार सृजन करना सबसे बड़ी चुनौती मानी जा रही है, ऐसे में वह किस नेता के अंदर पीएम के तौर पर यह क्षमता देखते हैं जो रोजगार पैदा करने के इन पैमानों पर खरा उतर सके. इसका जवाब देते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि रोजगार के अलावा मैं यह भी कहूंगा कि देश में सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों तक हमें लाखों किलोमीटर सड़कें बनानी हैं. इसके अलावा कृषि के क्षेत्र में भी बहुत काम होने हैं और नए शहर बनने हैं.

Sport House

आगे बोलते हुए यशवंत सिन्हा ने कहा कि ये सब काम अगर हम करना शुरू करते हैं तो हर साल सिर्फ सवा करोड़ नहीं, बल्कि 2-3 करोड़ रोजगार पैदा किए जा सकते हैं. हालांकि, दोबारा पूछने पर कि कौन नेता रोजगार के अवसर दे सकता है, इसके जवाब में यशवंत सिन्हा ने कहा कि उनके दिमाग में ऐसा कोई नाम नहीं है.

हालांकि, सिन्हा के इस जवाब पर फिर सवाल किया गया कि इस रेस में कौन सबसे करीब है. जिसके जवाब में उन्होंने कहा कि ऐसा करने वाले नेताओं में सबसे करीब मैं हूं. इतना ही नहीं, पूर्व केंद्रीय मंत्री के साथ बैठे सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी भी इस जवाब पर मुस्कुरा गए और उन्होंने कहा कि इस रेस में मैं इनके पीछे सबसे नजदीक हूं.

ममता-मायावती के नाम पर चर्चा

ज्ञात हो कि बीजेपी और मोदी को रोकने के लिए विपक्ष महागठबंधन को साकार रुप दे रहा है. वहीं बीजेपी लगातार महागठबंदन के नेतृत्व पर सवाल उठा रही है.

Related Posts

#CAA पर मचे बवाल के बीच सीतारमण ने कहा, पिछले छह सालों में मुस्लिमों सहित 3924 शरणार्थियों को दी गयी भारतीय नागरिकता

6 सालों में 2838 पाकिस्तानी शरणार्थियों, 914 अफगानिस्तानी शरणार्थियों और 172 बांग्लादेशी शरणार्थियों को भारत की नागरिकता दी गयी, जिनमें मुस्लिम समुदाय के लोग भी शामिल हैं.

Vision House 17/01/2020

इधर गठबंधन में शामिल दलों की ओर से कई नामों पर चर्चा है. यूपी में सपा-बसपा गठबंधन के दौरान पीएम पद पर मायावती की उम्मीदवारी को लेकर अखिलेश यादव से किए गये सवाल पर उन्होंने कहा था कि वो चाहेंगे कि देश का अगला पीएम यूपी से हो.

दूसरी ओर कोलकाता में ममता बनर्जी के नेतृत्व में हुई रैली के बाद उनका नाम भी इस रेस में है. कर्नाटक में कांग्रेस से सहयोग से सरकार चला रहे जनता दल सेकुलर के नेता एचडी कुमारस्वामी ने ममता बनर्जी में पीएम बनने की सभी क्षमताओं का जिक्र किया था. बीजेपी के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने भी ममता को प्रधानमंत्री पद के लिए परफेक्ट बताया है. उससे पहले डीएमके नेता एमके स्टालिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नाम की वकालत कर चुके हैं.
अब पीएम उम्मीदवार की रेस में यशवंत सिन्हा ने अपना नाम देकर ट्विस्ट दे दिया है. ज्ञात हो कि बीजेपी से बगावत के बाद सिन्हा किसी राजनीतिक दल का हिस्सा नहीं बने हैं, और फिलहाल वो सभी दलों के साथ मिलकर मोदी के खिलाफ आवाज बुलंद कर रहे हैं.

SP Deoghar

इसे भी पढ़ेंः प्रधानमंत्री पद के लिए ममता बनर्जी परफेक्टः शत्रुघ्न सिन्हा

इसे भी पढ़ेंः हैकर शुजा का दावाः 2014 आम चुनाव में EVM के जरिए हुई धांधली, गोपीनाथ मुंडे की मौत- हादसा नहीं हत्या, जेटली बोले बकवास

Mayfair 2-1-2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like