न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मोदी सरकार पर यशवंत, अरुण का हमला कहा- पीएमओ में सत्ता का केंद्रीकरण

मंत्रालयों के निर्णयों को नियंत्रित कर रहा है पीएमओ

298

Mumbai: पूर्व केंद्रीय मंत्रियों यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी तथा भाजपा के असंतुष्ट नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने शुक्रवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर राफेल लड़ाकू विमान से लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय में सत्ता के केन्द्रीकरण तक को लेकर निशाना साधा. यहां ‘लोकतंत्र बचाओ, संविधान बचाओ’ विषय एक परिचर्चा के दौरान यशवंत सिन्हा ने दावा किया कि राजग सरकार में निर्णय अकेले ही लिये जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार मंत्रालयों के निर्णयों को भी नियंत्रित कर रहा है पीएमओ.

इसे भी पढ़ेंःकोलकाताः अमित शाह की रैली आज, NRC विवाद को लेकर TMC का धिक्कार दिवस

उन्होंने राजनाथ सिंह का नाम लिये बिना दावा किया कि गृह मंत्री को जम्मू कश्मीर में पीडीपी के साथ गठबंधन से हटने के भाजपा के निर्णय के बारे में जानकारी भी नहीं थी. उन्होंने कहा कि इसी तरह से वित्त मंत्री को जानकारी नहीं थी कि नोटबंदी की घोषणा होने जा रही है.

इसे भी पढ़ेंःएनएसयूआई के राष्ट्रीय मीडिया को-ओर्डिनेटर बनाए गए अभिनव भगत, छात्रों ने किया स्वागत

बोफोर्स से बड़ा घोटाला राफेल- यशंवत

यशंवत सिन्हा ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे को ‘‘35 हजार करोड़ रूपये का घोटाला बताया जो कि 64 करोड़ रूपये के बोफोर्स घोटाले से कहीं बड़ा है.’’ वही पूर्व मंत्री अरुण शौरी ने आरोप लगाया कि निश्वित रूप से संविधान और लोकतंत्र खतरे में है. अभी तक पीट-पीटकर मार डालने की 72 घटनाएं हुई हैं. सोहराबुद्दीन (फर्जी मुठभेड़) मामले में 54 गवाह पलट चुके हैं. सीबीआई का दुरूपयोग किया जा रहा है. ऐसी उम्मीद नहीं लगती कि चीजें बदलेंगी. उन्होंने कहा कि मीडिया भयभीत है क्योंकि उसका विज्ञापन बंद हो सकता है.

palamu_12

इसे भी पढ़ेंःधनबादः 85 किलो चांदी के साथ एक शख्स गिरफ्तार, आगरा कैंट ट्रेन से RPF ने किया जब्त

इधर सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि वह अपने से भाजपा नहीं छोड़ेंगे. साथ ही कहा कि, अगर वे मुझे बाहर करना चाहें तो मैं उनके विवेक पर सवाल नहीं उठाऊंगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: