Lead NewsSports

Vinesh Phogat को भारतीय कुश्ती महासंघ ने किया माफ, लेकिन आजीवन बैन की चेतावनी भी दी

अब दोबारा देश के लिए खेल सकती हैं, वर्ल्ड चैंपियनशिप में जगह बनाने का मौका

New Delhi : भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगाट को राहत मिल गयी है. भारतीय कुश्ती महासंघ ने विनेश फोगाट के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई को खत्म करने का फैसला किया है. विनेश फोगाट अब दोबारा से भारत के लिए खेलना जारी रख सकती हैं और उनके पास वर्ल्ड चैंपियनशिप में जगह बनाने का मौका भी है.

अनुशासन तोड़ने की वजह से निलंबित किया था

टोक्यो ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में मिली हार के बाद विनेश फोगाट की मुश्किलें बढ़ गई थी. भारतीय कुश्ती महासंघ ने विनेश फोगाट को अनुशासन तोड़ने की वजह से निलंबित कर दिया था और उन्हें नोटिस भी भेजा गया था. विनेश फोगाट ने इस नोटिस का जवाब देते हुए अपनी गलती पर माफी मांगी थी.

advt

इसे भी पढ़ें :अब नयी तकनीक से खेती बारी के जरिये अपनी तकदीर बदलेंगी जनजातीय समाज की महिलाएं

विनेश फोगाट के जवाब से खुश नहीं है संघ

भारतीय कुश्ती महासंघ हालांकि विनेश फोगाट द्वारा भेजे गए जवाब से खुश नहीं है. महासंघ का कहना है कि विनेश फोगाट और बाकी दो अन्य रेसलर्स का जवाब संतोषजनक नहीं था, लेकिन फेडरेशन इन खिलाड़ियों को दूसरा मौका देना चाहता है. कुश्ती महासंघ ने साफ कर दिया है कि अगर विनेश फोगाट भविष्य में कोई और गलती करती हैं तो उन पर आजीवन बैन लगाया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें :हाइकोर्ट ने कहा-रिम्स में सभी व्यवस्था आउटसोर्सिंग न होकर स्थायी होनी चाहिए

विनेश ने मांगी थी माफी

विनेश फोगाट पर ओलंपिक खेलों के दौरान भारतीय खिलाड़ियों के साथ ट्रेनिंग नहीं करने के आरोप लगे थे. इसके अलावा क्वार्टर फाइनल मुकाबले में विनेश फोगाट ने भारतीय कुश्ती महासंघ की यूनिफॉर्म का इस्तेमाल नहीं किया था. विनेश ने कहा था कि यूनिफॉर्म के मामले में उनसे गलती हुई.

भारतीय कुश्ती महासंघ ने विनेश के अलावा दो और पहलवानों दिव्या और सोनम को भी माफ कर दिया है. भारतीय कुश्ती महासंघ का कहना है कि दिव्या और सोनम दोनों ही युवा खिलाड़ी हैं और उन्हें दूसरा मौका दिया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें :Nusrat Jahan Baby Boy: नुसरत जहां ने बेटे को दिया जन्म, सोशल मीडिया पर मिल रहीं बधाइयां

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: