GossipHEALTHNationalNEWSUttar-Pradesh

वाह रे सिस्टम : कोरोना वैक्सीन लेने वालों की लिस्ट में मृत डॉक्टरों और नर्सों के भी नाम

New delhi : लेकिन कोरोना वैक्सीन आने के बाद से देश में एक नयी उर्जा का संचार भी हुआ है. 16 जनवरी से देश भर में टीकाकरण (वैक्सीनेशन) अभियान शुरू हो जाएगा. लेकिन कोरोना टीकाकरण के पहले ही भ्रष्टाचार की बदबू आने लगी है. ताजा मामला उत्तर प्रदेश के अयोध्या से है. यहां वैक्सीन लगने वाले लाभार्थियों की लिस्ट में बड़ी गड़बड़ी सामने आई है. स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयार की गयी अपने लाभार्थियों की लिस्ट में मृत नर्स, रिटायर्ड नर्स तथा संविदा समाप्त होने वाले डॉक्टर का नाम भी शामिल कर दिया गया है. ऐसे में इस लिस्ट पर सवाल खड़ा होना लाजमी है.

जांच के दिए गये आदेश

कोरोना वैक्सीन लगने के लिए लाभार्थियों की पहली लिस्ट में स्वास्थ्य विभाग तथा आवश्यक सेवाओं से जुड़े कर्मचारियों और अधिकारियों को शामिल करना है. लेकिन यूपी के अयोध्या जिले में लाभार्थियों की लिस्ट में मृत नर्स, रिटायर्ड नर्सों तथा संविदा समाप्त होने वाले डॉक्टरों को भी शामिल कर लिया गया है. ऐसे में जब यह मामला अयोध्या पहुंचे स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जय प्रताप सिंह के सामने आया तो उन्होंने जांच के आदेश दे दिए. साथ ही उन्होंने इस मामले में लापरवाही करने वाले कर्मचारियों पर कार्रवाई करने की बात भी कही.

इसे भी पढ़ें- ब्रिस्बेन टेस्टः छह खिलाड़ियों के चोटिल होने के बाद निर्णायक टेस्ट में संभावित टीम की संरचना

advt

16 जनवरी से यूपी के 852 सेंटरों पर लगेगा टीका

16 जनवरी को देश के साथ उत्तर प्रदेश के 852 सेंटरों पर कोविड-19 का टीका हेल्थ वर्करों को लगाया जायेगा. टीका लगाने को लेकर सभी तरह की तायारियां पूरी की जा चुकि है. लिस्ट तैयार करने का काम भी काफी समय से किया जा रहा था. लिस्ट तैयार करने में ही बड़ी लापरवाही देखी गयी है. ड्राई रन के दूसरे चरण में प्रदेश के 1500 सेंटरों पर वैक्सीनेशन का रिहर्सल भी किया गया. लेकिन कोरोना वैक्सीन लगने से पहले ही अयोध्या में लाभार्थियों की लिस्ट में भारी लापरवाही सामने आ गयी है.

इसे भी पढ़ें- संतोष पांडे हत्याकांड मामले में शिक्षा मंत्री के भाई बैजनाथ महतो समेत 7 को उम्र कैद की सजा

adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: