OFFBEATWorld

घायल कमांडर अभिलाष टॉमी को समुद्र के बीच से सुरक्षित बचा लिया गया  

विज्ञापन

Melbourne : भारतीय नौसेना के अधिकारी अभिलाष टॉमी को सुरक्षित बचा लिया गया है. खबर दी गयी है कि सोमवार को फ्रांस के जहाज की मदद से अभिलाष को रेस्क्यू कर लिया गया है. बता दें कि गोल्डन ग्लोब रेस में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे अभिलाष टॉमी दक्षिण हिंद महासागर में तूफान आने के कारण शुक्रवार को  घायल हो गये थे. नौसेना के प्रवक्ता ने ट्विटर पर जानकारी दी है कि अभिलाष टॉमी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. नौसेना के वाइस एडमिरल गिरिश लूथरा ने कहा कि अभिलाष टॉमी अभी टेक्स्ट मैसेज के माध्यम से रेस के आयोजकों से संपर्क में हैं. कहा कि उनसे मिलने के बाद ही उनकी सेहत के बारे में सही-सही जानकारी दी जा सकती है. इससे पूर्व रेस्क्यू ऑपरेशन से जुड़े अधिकारियों ने कहा था कि टॉमी के कम्युनिकेशन डिवाइसों की बैटरी खत्म होने जा रही है. वह संदेशों का मुश्किल से जवाब दे रहे हैं. उन्हें रेस्क्यू करने निकले ओसिरिस जहाज को  खराब मौसम की वजह से आगे बढ़ने में काफी परेशानी हो रही थी. बताया कि वहां 8-8 मीटर ऊंची लहरें उठ रही हैं.

इसे भी पढ़ें:  पाक के पूर्व गृहमंत्री मलिक का ट्वीट, राहुल भारत के अगले पीएम बनने वाले हैं

उनके जहाज से दक्षिण हिंद महासागर में 14 मीटर ऊंची लहरें टकरायी थीं

रेस़्क़्यू से पूर्व गोल्डन ग्लोब रेस के आयोजकों ने अभिलाष के मैसेज के संबंध में बताया था. जिसमें अभिलाष ने लिखा था, मैं चल नहीं पा रहा हूं. स्ट्रेचर की जरूरत पड़ सकती है. फिर लिखा, मैं पैरों के पंजों को हिला पा रहा हूं. हालांकि पांव सुन्न हो गये हैं. कुछ खा पी नहीं पा रहा हूं. बैग तक पहुंचना भी मुश्किल हो रहा है. रक्षा विभाग के प्रवक्ता ने कहा था कि ऑस्ट्रेलिया का जहाज उन्हें बचाने के लिए पर्थ से निकल चुका है.  नेवी कमांडर अभिलाष टॉमी को कमर में चोट है. शुक्रवार को उनके जहाज से दक्षिण हिंद महासागर में 14 मीटर ऊंची लहरें टकरायी थीं.

इसे भी पढ़ें: राफेल डीलः CAG के बाद CVC से मिलेगी कांग्रेस, स्वतंत्र जांच की मांग

अभिलाष ग्लोब रेस भाग लेने के लिए एसवी थुराया जहाज पर सवार थे

कमांडर अभिलाष टॉमी को लेकर रक्षामंत्री निर्मला सीतारमन ने ट्वीट किया कि टॉमी के जहाज का भारतीय नौसेना के एयरक्राफ्ट ने पता लगा लिया है. 16 घंटों में फ्रांस के जहाज ओसिरिस की मदद से रेस्क्यू कर लिया जायेगा. रक्षामंत्री ने कहा कि वाइस एडमिरल अजीत कुमार पी से भी बात हो गयी है. रेस्क्यू मिशन में ऑस्ट्रेलियाई नेवी भी सहायता कर रही है. अभिलाष टॉमी गोल्डेन ग्लोब रेस 2018 में भाग लेने के लिए एसवी थुराया जहाज़ पर सवार थे. बता दें कि टॉमी पहले व्यक्ति हैं जिन्होंने 2013 में समुद्री रास्ते से पूरे विश़्व का भ्रमण किया था. 30 हज़ार मील की इस यात्रा में शामिल होने वाले वे एकमात्र भारतीय थे.

advt

इसे भी पढ़ें: झारखंड के 20 लोगों पर दर्ज देशद्रोह के मामले के खिलाफ दिल्ली में प्रतिरोध मार्च

 

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button