न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चिंताजनकः राजधानी में पिछले 13 दिनों में 5 लोगों ने की आत्महत्या

पारिवारिक विवाद, मानसिक तनाव और बेरोजगारी बड़ा कारण

563

Ranchi: झारखंड की राजधानी में आत्महत्या का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है. बड़ी बात यह है कि अपनी जान लेने वालों में अधिकतर युवा ही हैं.

राजधानी रांची में पारिवारिक विवाद, मानसिक तनाव और नौकरी नहीं लगने जैसी वजह से लोग आत्महत्या कर रहे हैं.

पिछले 13 दिनों में राजधानी में 5 लोगों ने आत्महत्या की. लगातार सामने आ रहे खुदकुशी के मामलों को लेकर पुलिस और प्रशासन भी सकते में है. आत्महत्या की ये घटनाएं धुर्वा, सदर थाना, सुखदेवनगर और लोअर बाजार थाना क्षेत्र में हुईं.

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक: उम्र का गोल्डेन टाइम इस नौकरी में लगा दिया, अब कर्ज में डूबे हैं

पारिवारिक विवाद, मानसिक तनाव बड़ा कारण

राजधानी रांची में पिछले 13 दिनों के दौरान हुई पांच आत्महत्या की घटनाओं के पीछे पारिवारिक विवाद,मानसिक तनाव और नौकरी नहीं मिलने की वजह सामने आयी.

जहां धुर्वा में राजवंश सिंह, सदर थाना क्षेत्र में गुड़िया देवी और सुखदेव नगर थाना क्षेत्र में प्रमोद कुमार ने पारिवारिक और मानसिक तनाव के कारण अपनी जान दे दी.

वहीं हाल के दिनों में नौकरी नहीं मिलने से परेशान धुर्वा थाना क्षेत्र के रहने वाले युवक राहुल कुमार और लोअर बाजार थाना क्षेत्र में रहने युवती दिव्या कुमारी ने पढ़ाई के बाद नौकरी नहीं मिलने के अपनी इहलीला समाप्त कर ली.

युवाओं में बढ़ी है आत्महत्या की प्रवृत्ति

आजकल हो रहे आत्महत्या पर गौर करें तो युवा वर्ग के लड़के और लड़कियों में आत्महत्या की प्रवृत्ति बढ़ी है. सुसाइड के ग्राफ में युवाओं की संख्या दिनों-दिन बढ़ती जा रही है. इस तरह की घटनाओं के पीछे की ज्यादातर वजह पारिवारिक कलह अथवा मानसिक तनाव ही मानी जा रही है.

Related Posts

नहीं थम रहा #Mob का खूनी खेलः बच्चा चोरी के शक में तोड़ रहे कानून, कहीं महिला-कहीं विक्षिप्त की पिटायी

बच्चा चोरी की बात महज अफवाह, अफवाह से बचें और सावधानी और सतर्कता रखें

इसे भी पढ़ेंःपलामू: चोरी करने घुसे युवक की पिटायी, इलाज के दौरान तोड़ा दम-शव के साथ सड़क जाम 

27.6 फीसदी आत्महत्या के पीछे पारिवारिक कलह

एनसीआरबी के आंकड़ों के अनुसार, 27.6 फीसदी आत्महत्या का कारण पारिवारिक समस्या है. देश में कुल आत्महत्या में करीब 27.6 फीसदी का कारण पारिवारिक कलह है. करीब 26 फीसदी लोग अन्य कारणों से अपनी जान दे देते हैं.

पिछले 13 दिनों में पांच आत्महत्याएं

1 जून 2019- धुर्वा थाना क्षेत्र के डीटी 421 निवासी राजवंश सिंह उर्फ धोती सिंह शुक्रवार देर रात अपने आवास में दोनों हाथ-पैर के नस काटकर फंदे से झूल गये.

6 जून 2019- सदर थाना क्षेत्र अंतर्गत आनंद बिहार कॉलोनी के रोड नंबर तीन में लवली कॉटेज के रूम नंबर पांच में किराये के घर में रहनेवाली बीएसएफ जवान की पत्नी गुड़िया देवी का शव गमछा के सहारे पंखे से लटका मिला.

8 जून 2019- धुर्वा थाना क्षेत्र के आदर्श नगर में राहुल कुमार नाम के एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

10 जून 2019- सुखदेवनगर थाना क्षेत्र में बजरा में प्रमोद कुमार का संदिग्ध परिस्थित में शव फांसी के फंदे से लटका मिला.

11 जून 2019- लोअर बाजार थाना क्षेत्र के कुम्हार टोली निवासी 27 वर्षीय दिव्या कुमारी नामक युवती ने नौकरी नहीं मिलने से परेशान होकर जान दे दी.

इसे भी पढ़ेंःन्याय की आस में गिरिडीह से रांची पहुंचा युवक, लगातार होती मारपीट से परेशान

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: