Bokaro

बोकारो थर्मल पावर प्लांट के कन्वेयर बेल्ट में फंसने से मजदूर की मौत

Sanjay

Sanjeevani

Bermo: बोकारो थर्मल स्थित डीवीसी के 500 मेगावाट के पावर प्लांट में सीएचपी के कन्वेयर बेल्ट में फंसने से काम के दौरान मजदूर की मौत घटनास्थल पर ही हो गयी. घटना बुधवार सुबह लगभग दस बजे की है.

MDLM

कन्वेयर बेल्ट के रॉलर में फंसे मजदूर का शव काफी मशक्कत के बाद लगभग एक घंटे बाद निकाला जा सका. घटना के बाद पावर प्लांट में काम करने वाले सैकड़ों मजदूरों के द्वारा मुआवजा की मांग को लेकर शव को रखकर प्रदर्शन किया गया.

इसे भी पढ़ेंःचुनाव के बीच 21 विपक्षी पार्टियों ने ईवीएम में गड़बड़ी पर चिंता जताई, SC में याचिका डाली

कैसे घटी घटना

500 मेगावाट के ए पावर प्लांट में सीएचपी के वार्षिक रख-रखाव का काम करने वाली कंपनी लोकनाथ कंस्ट्रक्शन में ये हादसा हुआ. जहां प्रफुल्ल मेहता उर्फ मुन्ना बुधवार को 18 नंबर बंकर में कोयला के कन्वेयर बेल्ट में क्लिनिंग का काम कर रहा था.

घटना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल

काम के दौरान लगभग दस बजे बेल्ट में फंसे किसी धातु को प्रफुल्ल लोहे की छड़ से निकाल रहा था. इसी क्रम में कन्वेयर बेल्ट ने मजदूर को लोहा सहित खींच लिया और वह घिसटता हुआ बेल्ट के नीचे जाकर रॉलर में फंस गया.

घटना के समय कार्यस्थल पर महज एक महिला कामगार मौजूद थी और उसी महिला ने चिल्लाकर घटना की जानकारी अन्य लोगों को दी. महिला के द्वारा शोर की आवाज सुनकर आसपास के कामगारों ने मोटर को जब तक बंद किया तब तक मजदूर की मौत हो चुकी थी.

एक घंटे बाद निकाला गया मजदूर का शव

घटना की सूचना पाकर डीवीसी के प्रोजेक्ट हेड कमलेश कुमार, डीजीएम पीके सिंह, अपर निदेशक नीरज सिन्हा सहित अन्य अधिकारी सहित सैकड़ों मजदूर एवं यूसीडब्ल्यूयू के अध्यक्ष ब्रजकिशोर सिंह, महामंत्री नवीन कुमार पाठक, सीटू नेता भागीरथ शर्मा तथा अख्तर खान घटनास्थल पर पहुंचे.

बेल्ट का मोटर बंद करने के बाद रॉलर में फंसे मजदूर को एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद निकाला गया. मजदूर का दोनों हाथ कई स्थानों से बुरी तरह से टूटकर चूर हो चुका था.

मुआवजा की मांग को लेकर शव को उठाने नहीं दे रहे मजदूर

बेल्ट के रॉलर से निकाले जाने के बाद मजदूर के शव को डीवीसी हॉस्पीटल के जाने से सैकड़ों मजदूर सहित यूनियन नेताओं ने रोका. मुआवजा एवं नियोजन की मांग को लेकर मजदूर का शव उठाने नहीं दिया जा रहा था.

इसे भी पढ़ेंःदेखें वीडियोः कैसे सिपाही जी ट्रेन में कर रहे हैं दातून और सब्जी बेचने वालों से अवैध वसूली

प्रोजेक्ट हेड के साथ वार्ता

मजूदर की मौत के बाद मुआवजा एवं नियोजन की मांग को लेकर डीवीसी के स्थानीय प्रोजेक्ट हेड कमलेश कुमार की मौजूदगी में यूनियन प्रतिनिधियों एवं परिजनों के साथ वार्ता पावर प्लांट में हो रही है.

वार्ता में यूसीडब्ल्यूयू के अध्यक्ष ब्रजकिशोर सिंह,महामंत्री नवीन कुमार पाठक,सीटू नेता भागीरथ शर्मा तथा अख्तर खांन सहित अन्य मजदूर शामिल हुए.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड में भाजपा, कांग्रेस, माले को छोड़ किसी दूसरे दल ने महिलाओं को नहीं बनाया प्रत्याशी

Related Articles

Back to top button