NEWS

गोपाल साहू के पेइंग स्टाफ से नाराज हैं कार्यकर्ता, रामगढ़ जिला कार्यकारी अध्यक्ष का वीडियो वायरल, कांग्रेस ने 6 साल के लिए पार्टी से निकाला

विज्ञापन
  • हजारीबाग लोकसभा: बड़ी राजनीतिक षड्यंत्र के तहत गोपाल साहू को चुनाव में हराया जा रहा है- पंकज तिवारी

Hazaribagh:  हजारीबाग लोकसभा क्षेत्र में कांग्रेस प्रत्याशी गोपाल साहू को उम्मीदवार बनाया गया है. प्राप्त सूचना के अनुसार गोपाल साहू के चुनाव कार्य को देखने वाला मोहित सिंहा नामक व्यक्ति है. जो सभी तरह के कार्य का संचालन कर रहा है. मोहित सिन्हा से पार्टी के नेता और कार्यकर्ता नाराज हैं.

कहा जा रहा है की गोपाल साहू के सभी फैसले इसी व्यक्ति के माध्यम से लिये जा रहे हैं. इसका कारण मतदान के पूर्व तब खुल के सामने आया जब रामगढ़ जिला कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष पंकज तिवारी का एक वीडियो वायरल हुआ. जिसमें मोहित सिन्हा पर कई तरह के अरोप लगाये गये हैं.

advt

पंकज तिवारी मोहित सिन्हा के रवैया से तंग आकर पार्टी छोड़ने की चेतावनी भी दे रहे हैं. वीडियो सामने आने के बाद पार्टी ने उन्हें 6 वर्ष के लिए निष्कासित भी कर दिया है.

इसे भी पढ़ेंः 5वां चरणः रांची, खूंटी, हजारीबाग और कोडरमा में थमा प्रचार का शोर, अब डोर-टू-डोर

रामगढ़ जिला कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष के वायरल वीडियो में उन्होंने क्या कहा

रामगढ़ जिला कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष पंकज तिवारी ने कहा, मोहित सिन्हा अगर कार्यकर्ताओं से माफी नहीं मांगते तो निश्चित तौर पर हमें अपने  पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है.

हम स्वेच्छा से ही सात तारीख को अपने पद से इस्तीफा दे देंगे. क्योकि पांच साल से कार्य कर रहे पार्टी कार्यकताओं को अपमानित किया जा रहा है. जब चाहे एक व्यक्ति द्वारा कार्यकताओं को हजारीबाग बुला लिया जाता है. कार्यकताओं के द्वारा फोन किये जाने पर किसी तरह का उत्तर नहीं दिया जाता है.

adv

पंकज तिवारी ने कांग्रेस प्रत्याशी के चुनाव प्रचार के बारे में बताया कि गोपाल साहू को जीत दिलाने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता लगे हुए हैं. लेकिन गोपाल साहू के कुछ पेइंग गेस्ट है, जो कार्यकर्ताओं को परेशान कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः हजारीबाग : फानी  तूफान का कहर, तीन ट्रकों में आग लगी, दो जल कर खाक  

कार्यकर्ताओं के पास चुनाव प्रचार सामग्री नहीं है. कार्यकर्ताओं को ये पता नहीं है कि उम्मीदवार का काम कौन देख रहा है. चुनाव प्रचार खत्म होने को है अभी तक बूथ लिस्ट नहीं बांटी गयी है. गोपाल साहू के खिलाफ षड्यंत्र रचा जा रहा है. इलाके में 5 साल से कार्यकर्ताओं ने क्षेत्र को सिंचने का काम किया.

आज वह कार्यकर्ताओं को अपमानित महसूस करा रहे हैं. इसका असर वोट प्रतिशत पर पड़ना स्वाभाविक है.

इसे भी पढ़ेंः 6 मई को मतदान, रांची में हैं 19,10, 955 मतदाता, तैयारी पूरी, 253 केंद्रों से वेबकास्टिंग

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button