न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

अनुकंपा पर बहाल शिक्षकों से काम तो लिया जा रहा, लेकिन नहीं दिया जा रहा नियुक्ति पत्र

727
  • रांची जिले को छोड़, किसी भी जिले में पिछले एक साल नहीं दिया गया नियुक्ति पत्र
  • जिला अनुकंपा समीति करती है अनुकंपा में शिक्षकों की बहाली
eidbanner

Ranchi: शिक्षा विभाग आदेश तो दे देती है. लेकिन इन आदेशों का सही से अनुपालन नहीं किया जाता. राज्य में अनुकंपा के आधार पर शिक्षकों की नियुक्ति की जाती है. लेकिन इन शिक्षकों को ससमय नियुक्ति पत्र नहीं दिया जा रहा.

इस संदर्भ में 28 जनवरी 2018 को स्कूली शिक्षा साक्षरता विभाग की ओर से प्रमंडल और जिला स्तर के अधिकारियों और कर्मचारियों को आदेश दिया गया था कि अनुकंपा पर होने वाली बहालियों का निष्पादन जल्द से जल्द होना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः जनता कहती है रांची और धनबाद में लॉ एंड ऑर्डर हो चुनावी मुद्दा, मगर नेता जी को इससे क्या वास्ता

इसके बावजूद भी राज्य में इन कार्यों का निष्पादन सही से नहीं हो रहा है. विभिन्न जिलों के अनुकंपा में कार्यरत शिक्षकों से बात करने से जानकारी हुई कि इन शिक्षकों को अनुकंपा पर बहाली के लिए बुला तो लिया जाता है, लेकिन इनकी नियुक्ति ससमय नहीं की जा रही है.

इसे भी पढ़ेंःचौथी बार मुख्य सचिव रैंक के अफसर को JPSC की जिम्मेवारी, आयोग को पटरी पर लाना होगी बड़ी चुनौती

कई अनुंकपा पर कार्यरत शिक्षकों ने ऐसी ही जानकारी दी. जिसमें चतरा, गोड्डा, सरायकेला- खरसांवा, खूंटी जैसे जिले शामिल है. इन जिलों में पिछले एक साल से इन शिक्षकों को नियुक्ति पत्र नहीं दिया गया है. सिर्फ रांची जिला में पिछले माह इन शिक्षकों को नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया.

टाइपिंग दक्षता के आधार पर करनी है नियुक्ति

Related Posts

दर्द-ए-पारा शिक्षक: उधार बढ़ने लगा तो बेटों ने पढ़ाई छोड़कर शुरू की मजदूरी, खुद भी सब्जियां बेच निकाल रहे खर्च

इंटर तक पढ़ी हैं दो बेटियां, मानदेय नहीं मिलने के कारण आगे नहीं पढ़ा पा रहे

शिक्षा विभाग की ओर से आदेश दिया गया है कि जिला अनुकंपा समिति की अनुशंसा पर इन शिक्षकों को नियुक्त करना है. साथ ही इसके लिए समिति टाइपिंग दक्षता देखेगी. लेकिन वर्तमान में टाइपिंग दक्षता के नाम पर अनुकंपा पर बहाल शिक्षकों को पिछले एक साल से दौड़ाया जा रहा है.

रांची के कई शिक्षकों ने जानकारी दी कि टाइपिंग दक्षता के बावजूद नियुक्ति नहीं दी जा रही है. जिससे परेशानी काफी बढ़ गई है. इन शिक्षकों की नियुक्ति कक्षा तीन से ही करनी है. राज्य में रांची जिले को छोड़ बाकी सभी जिलों में कम से कम 15-20 शिक्षकों को अनुकंपा के नाम पर अब तक नियुक्ति पत्र नहीं दिया गया है.

इसे भी पढ़ेंःबीजेपी ने किया था दावा : पहुंचेगा पाईप से पानी, शिक्षण संस्थान होंगे…

क्या था आदेश में

इस आदेश में सभी क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशकों, जिला शिक्षा पदाधिकारियों और जिला शिक्षा अधीक्षकों को आदेश दिया गया कि अनुकंपा पर शिक्षकों की बहाली के कार्यों का निष्पादन जल्द से जल्द किया जाना चाहिए.

साथ ही जिला अनुकंपा समीति की अनुशंसा पर टाइपिंग के आधार पर शिक्षकों को जल्द से जल्द नियुक्ति कर मामले का निष्पादन किया जाये. आदेश का सही से अनुपालन नहीं होने के कारण इन शिक्षकों को नियमित वेतन नहीं मिल पा रहा है.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड में बेरोजगारी सबसे बड़ा चुनावी मुद्दा, अरबन एरिया में लॉ एंड…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: