न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सीआईएसएफ और सीआरपीएफ में महिलाओं की भागीदारी जल्द होगी 15 फीसदी : रिजिजू

969

New Delhi: गृह राज्य मंत्री किरेन रिजिजू ने मंगलवार को कहा कि केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) में महिलाओं का प्रतिनिधित्व जल्द कम से कम 15 फीसदी तक करने के लक्ष्य को पूरा कर लिया जाएगा. लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सुप्रिया सुले के पूरक प्रश्न के उत्तर में रिजिजू ने यह भी कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि सभी केंद्रीय सुरक्षा बलों में महिलाओं की भागीदारी कम से कम पांच फीसदी हो.

उन्होंने कहा कि सीआईएसएफ और सीआरपीएफ में महिलाओं के प्रतिनिधित्व को कम से कम 15 फीसदी करने का लक्ष्य रखा गया था और इस लक्ष्य को जल्द पूरा किया जाएगा. केंद्रीय सुरक्षा बलों की तैनाती और आत्महत्या के मामलों से जुड़े सवाल पर मंत्री ने कहा कि तैनाती जरूरत के मुताबिक होती है. साथ ही दुर्लभ इलाकों में जवानों की तैनाती के बाद उनकी बुनियादी जरूरतों का पूरा ध्यान रखा जाता है. केंद्रीय मंत्री ने ये भी कहा कि सुरक्षा बलों का संतुष्टि का भाव बढ़ा है.

केंद्रीय राज्य मंत्री रिजिजू ने कहा कि सरकार ने 5 जनवरी 2016 को सीआरपीएफ और सीआईएसएफ में कॉन्स्टेबल स्तर पर महिलाओं की 33% भर्ती सुनिश्चित करने का फैसला किया था. सीमा की सुरक्षा में तैनात बल जैसे- बीएसएफ, एसएसबी और आईटीबीपी में 14-15 फीसदी से इसकी शुरुआत की गई थी. गौरतलब है कि तीनों सेनाओं में से वायु सेना में महिलाओं की संख्या सबसे ज्यादा 13% है. वही नौसेना में यह आंकड़ा 6% और सबसे कम थल सेना में महज 3.8% है.

इसे भी पढ़ेंः CBI विवादः केंद्र को SC से झटका, आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजने का फैसला रद्द लेकिन फिलहाल नहीं ले सकेंगे नीतिगत फैसला

इसे भी पढ़ेंः SC के फैसले पर बोले जेटली, सीवीसी की सिफारिश पर आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजा गया

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: