न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हटिया में महिला की संदिग्ध मौत, संतान नहीं होने की वजह से पति करता था मारपीट

महिला की संदिग्ध अवस्था में मौत

1,470

Ranchi: राजधानी रांची में एक महिला की संदिग्ध अवस्था में मौत की हुई है. मृतक महिला का पति एक ओर इस घटना को आत्महत्या बता रहा है, वहीं दूसरी और उसका भाई इसे हत्या बता रहा है. यह घटना सिंह मोड़ लटमा रोड नंबर 9 की है. यह हत्या का मामला है या आत्महत्या का, पुलिस सभी तथ्यों की छानबीन में जुटी हुई है.

पति ने कहा, आत्महत़्या की घटना है, भाई बोला हत्या हुई है

मृतक महिला नूतन सिंह के पति राजीव सिंह का कहना है कि उसकी पत्नीने दुपट्टे के सहारे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. वहीं मृतका के भाई नंदकिशोर सिंह का कहना है कि इन लोगों ने मिलकर मेरी बहन की हत्या कर दी है. उसने बताया कि मेरी बहन के शरीर पर कई जगह जख्मों के निशान थे. उसके हाथ-पैर भी टूटे हुए थे. इससे साफ है कि इन लोगों ने मिलकर मेरी बहन को जान से मार दिया.

hosp3

इसे भी पढ़ेंःगिरिडीह : तीन दिनों बाद भी नहीं मिला जुबैदा और उसके तीन बच्चों के हत्यारों का सुराग

मायके में रहती थी महिला, बाजार से जबरन उठा ले गया था पति

मृतका नूतन सिंह के भाई नंदकिशोर सिंह ने बताया कि उसकी बहन की शादी 1997 में राजीव सिंह के साथ हुई थी. मेरी बहन की कोई संतान नहीं थी. इसकी वजह से ससुराल वाले शुरू से ही मेरी बहन के साथ मारपीट करते थे. मेरी बहन पिछले कुछ दिनों से अपने मायके में रह रही थी. एक सप्ताह पहले मेरी बहन सिलाई ट्रेनिंग सेंटर सिंह मोड़ गयी थी. जब वह वहां से निकल रही थी, तो उसके ससुराल वाले उसको जबरदस्ती अपनी गाड़ी में बैठाकर ससुराल ले गये. वहां उसके साथ अक्सर मारपीट की जाती थी. आज सुबह जब मैं अपनी बहन से बात कर रहा था तो उसके पति ने उससे फोन छीन लिया. उस समय वहां से चीखने-चिल्लाने की आवाज आ रही थी, बचाओ यह लोग हमें मार देंगे.


इसे भी पढ़ेंःन्यूजविंग इंपैक्टः महिला अफसर को परेशान करने का मामला, हजारीबाग DC से मांगी गई जानकारी 

शरीर पर थे जख्मों के निशान, हाथ-पैर भी टूटे हुए थे

मृतका के भाई ने बताया कि सुबह 9 बजे लगभग मेरी बहन के पति ने मुझे कॉल किया और कहा कि आपकी बहन ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. जब मैं अपनी बहन के घर पहुंचा तो वहां लोगों ने बताया कि शव को जगन्नाथपुर पुलिस ने थाना ले गयी है. जब थाना पहुंचा तो अपनी बहन के शरीर पर काफी जख्मों के निशान देखे. उसके हाथ-पैर भी टूटा हुए थे. उसके ससुराल वाले जिस दुपट्टे से आत्महत्या करने की बात बता रहे थे, वह दुपट्टा कमजोर था. उससे कोई भी व्यक्ति आत्महत्या नहीं कर सकता है. हम लोगों के पहुंचने से पहले ही उसके ससुराल वालों ने पुलिस बुलाकर शव को थाना भिजवा दिया था.

पुलिस हिरासत में पति और देवर

जगन्नाथपुर थाना प्रभारी ने बताया कि महिला की कोई संतान नहीं थी. इस वजह से कलह होती रहती थी. महिला की हत्या हुई है या महिला ने आत्महत्या की है, यह अनुसंधान के क्रम में पता चलेगा. पुलिस ने धारा 306 के अंतर्गत पति और देवर को हिरासत में ले लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: