न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भाजपा के सहयोग से कोलेबिरा उपचुनाव में भय और दहशत का माहौल बना रहे एनोस एक्का : डॉ अजय कुमार

53
  • पारा शिक्षक हत्याकांड में रांची जेल में बंद हैं एनोस एक्का
  • राज्य के बाहर की जेल में भेजने की कांग्रेस ने की मांग
  • शांतिपूर्ण उपचुनाव हो, इसके लिए कांग्रेस करेगी चुनाव आयोग से शिकायत
mi banner add

Ranchi : कांग्रेस ने राजधानी के होटवार स्थित बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में बंद झापा के पूर्व विधायक एनोस एक्का पर कोलेबिरा उपचुनाव को प्रभावित करने का आरोप लगाया है. झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने कहा कि कोलेबिरा विधानसभा सीट के कांग्रेस प्रत्याशी विक्सल कोंगाड़ी को क्षेत्र की जनता का पूरा समर्थन है. पार्टी की जीत सुनिश्चित है. इसी से पारा शिक्षक हत्याकांड में जेल में बंद एनोस एक्का पूरी तरह से डर गये हैं. जेल से ही वह फोन पर कोलेबिरा में भय और दहशत का माहौल बना रहे हैं, ताकि कांग्रेस के समर्थन में क्षेत्र की जनता सामने न आ पाये. इस काम के लिए राज्य की भाजपा सरकार उसे सहयोग कर रही है. लोकतंत्र को बचाने के लिए कांग्रेस पार्टी सोमवार को चुनाव आयोग से मिलकर ज्ञापन सौंपेगी और एनोस एक्का के खिलाफ शिकायत करेगी.

कोलेबिरा की जनता को एनोस ने दिया धोखा

एनोस एक्का पर कोलेबिरा की जनता को धोखा देने का आरोप लगाते हुए डॉ अजय ने कहा कि जब एनोस एक्का क्षेत्र से विधायक थे, तो संतोषी नामक बच्ची की मौत भूख से हो गयी थी. फिर भी एनोस एक्का ने इस पर सरकार से बात नहीं की. इससे कोलेबिरा का नाम न केवल झारखंड में, बल्कि पूरे देश में बदनाम हुआ. फिर पारा शिक्षक हत्याकांड में दोषसिद्धि और सजा मिलने से एनोस की विधायकी गयी. दूसरी ओर भाजपा सरकार पारा शिक्षकों को परेशान करने में लगी है. इससे साबित होता है कि उपचुनाव में एनोस को भाजपा का पूरा समर्थन है.

बी-टीम बनकर रह गयी है भाजपा

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि कोलेबिरा क्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी का चयन एनोस एक्का की मर्जी से तय हुआ है. भाजपा जानती थी कि क्षेत्र की जनता का कांग्रेस को पूरा समर्थन है. इसे देख प्रत्याशी चयन से लेकर उपचुनाव में भय का माहौल बनाने तक भाजपा ने झापा को साथ दिया है. यह ऐसे भी साबित होता है कि कोलेबिरा से जब भाजपा प्रत्याशी ने पर्चा दाखिल किया, उस दौरान वहां न तो भाजपा का कोई मंत्री था और न ही संगठन का कोई अध्यक्ष. ऐसे में कोलेबिरा चुनाव में भाजपा बी-टीम बनकर रह गयी है.

राज्य से बाहर की जेल में भेजा जाये एनोस को

Related Posts

गिरिडीह : बार-बार ड्रेस बदलकर सामने आ रही थी महिलायें, बच्चा चोर समझ लोगों ने घेरा

पुलिस ने पूछताछ की तो उन महिलाओं ने खुद को राजस्थान की निवासी बताया और कहा कि वे वहां सूखा पड़ जाने के कारण इस क्षेत्र में भीख मांगने आयी हैं

डॉ अजय ने कहा कि कांग्रेस पार्टी मांग करती है कि जेल में बंद एनोस एक्का को राज्य के बाहर किसी जेल में रखा जाये. क्योंकि, एनोस एक्का की गतिविधि से कोलेबिरा में भय का माहौल बन गया है. सुनने में तो यहां तक आया है कि एनोस एक्का समर्थक असामाजिक तत्व बूथ तक मतदाताओं को जाने से रोकने का प्रयास कर सकते हैं. झापा भय और दहशत से चुनाव जीतना चाहती है. अगर वह राज्य के किसी भी जेल में रहते हैं, तो चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं.

चुनाव आयोग से की जायेगी शिकायत

डॉ अजय ने कहा कि कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल सोमवार को चुनाव आयोग से मिलकर इन सारी बातों की शिकायत करेगा, ताकि कोलेबिरा में निष्पक्ष चुनाव हो. चुनाव आयोग के निर्देश के बाद भी सिमडेगा के प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी इस पर अंकुश नहीं लगाते, तो पार्टी दिल्ली में भी चुनाव आयोग से शिकायत करने से पीछे नहीं हटेगी.

इसे भी पढ़ें- संताल से तीन मुख्यमंत्री रहे, फिर भी संताल का नहीं हुआ विकास : सीएम

इसे भी पढ़ें- होटवार के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में छापामारी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: