न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शीतकालीन सत्र : अंतिम दिन चार घंटे चला सत्र, पांच विधेयक हुए पास, 30 गैर सरकारी संकल्प पर हुई चर्चा

164

Ranchi : झारखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन गुरुवार को सत्र चार घंटे तक चला. दो दिनों तक पारा शिक्षकों का मुद्दा गर्म होने के बाद गुरुवार को विपक्ष और पक्ष दोनों की मौजूदगी में एक विधेयक को वापस लिया गया, वहीं चार विधेयक पास किये गये. इसके अलावा 30 गैर सरकारी संकल्प पर भी चर्चा हुई. झारखंड मोटर करारोपण संशोधन विधेयक 2018 पर सबसे अधिक चर्चा हुई, जिसके बाद वोटिंग कराकर फैसला किया गया.

पांच विधेयक हुए पास

सदन के अंतिम सत्र में गुरुवार को पांच विधेयकों को पास किया गया. इनमें झारखंड पदों एवं सेवाओं की रिक्तियों में आरक्षण अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों एवं पिछड़ा वर्गों के लिए संशोधन विधेयक 2018, भारतीय मुद्रा झारखंड संशोधन विधेयक 2018 , झारखंड दुकान एवं प्रतिष्ठान संशोधन विधेयक 2018, झारखंड मोटर वाहन करारोपण संशोधन विधेयक 2018 और झारखंड राज्य विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक 2018 को गुरुवार को सदन से पास किया गया. वहीं, झारखंड चिकित्सा सेवा से संबंध व्यक्तियों चिकित्सा सेवा संस्थान हिंसा एवं संपत्ति नुकसान निवारण विधेयक 2017 को वापस लिया गया.

विधेयक के दौरान झामुमो, कांग्रेस का वॉकआउट

सदन की द्वितीय पाली की कार्यवाही 2:10 बजे से चालू हुई. इसके बाद विधेयक को लेकर चर्चा की जा रही थी, झारखंड मोटर वाहन करारोपण विधेयक में वोटिंग होने के बाद कांग्रेस और झामुमो ने सदन से वॉकआउट कर दिया. 3:17 बजे गैर सरकारी संकल्पों पर चर्चा के दौरान सभी सदन में वापस आ गये. इसके बाद करीब 30 गैर सरकारी संकल्पों पर चर्चा हुई.

इसे भी पढ़ें- रघुवर सरकार कल पूरा करेगी चार वर्षों का सफर, पूरे शहर में लगे बैनर-पोस्टर

इसे भी पढ़ें- पारा शिक्षकों की शिक्षा मंत्री नीरा यादव के साथ वार्ता विफल, जारी रहेगा आंदोलन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: