न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मिलेगी राहत ! 99 प्रतिशत चीजों को 18 % जीएसटी स्लैब में लाने की तैयारी में सरकार

993

Mumbai: आनेवाले दिनों में मोदी सरकार जीएसटी में बड़ी राहत देने की तैयारी में है. साथ ही सरकार ने बैंक का कर्ज नहीं चुकाने वालों और भगोड़ों पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने माल एवं सेवा कर को और ज्यादा सरल बनाने के संकेत दिए हैं. मोदी ने कहा कि उनकी सरकार चाहती है कि 99 प्रतिशत सामान या चीजें जीएसटी के 18 प्रतिशत के कर स्लैब में रहें. मोदी ने निजी टीवी चैनल के समिट को संबोधित करते हुए कहा कि जीएसटी लागू होने से पहले केवल 65 लाख उद्यम पंजीकृत थे, जिसमें अब 55 लाख की वृद्धि हुई है.

99 फीसदी सामान 18% GST स्लैब में आएंगे!

प्रधानमंत्री ने कहा, आज, जीएसटी व्यवस्था काफी हद तक स्थापित हो चुकी है और हम उस दिशा में काम कर रहे हैं जहां 99 प्रतिशत चीजें जीएसटी के 18 प्रतिशत कर स्लैब में आयें. उन्होंने संकेत दिया कि जीएसटी का 28 प्रतिशत कर स्लैब केवल लक्जरी उत्पादों जैसी चुनिंदा वस्तुओं के लिए होगा. मोदी ने कहा कि हमारा प्रयास यह सुनिश्चित करना होगा कि आम आदमी के उपयोग वाली सभी वस्तुओं समेत 99 प्रतिशत उत्पादों को जीएसटी के 18 प्रतिशत या उससे कम कर स्लैब में रखा जाये. उन्होंने कहा, “हमारा मानना है कि उद्यमों के लिये जीएसटी को जितना अधिक से अधिक सरल किया जाना चाहिये.”

वही भ्रष्टाचार पर बोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, भारत में भ्रष्टाचार को सामान्य मान लिया गया था. यह तो ‘चलता है’. जब भी कोई आवाज उठाता था तो, सामने से आवाज आती थी ‘यह भारत है’. यहां ऐसा ही चलता है. उन्होंने कहा कि जब कंपनियां कर्ज चुकाने में नाकाम रहतीं तो उनके और उनके मालिकों के साथ कुछ नहीं होता था. ऐसा इसलिए क्योंकि कुछ विशेष लोगों द्वारा उन्हें जांच से सुरक्षा मिली हुई थी. पीएम मोदी ने चेतावनी देते हुए कहा कि आर्थिक भगोड़ों और बैंकों के डिफाल्टर्स को बख्शा नहीं जाएगा.

इसे भी पढ़ेंः बिहार एनडीए में फिर फूट !

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: