West Bengal

केंद्र सरकार के खिलाफ संसद से सड़क तक लड़ूंगी : ममता

विज्ञापन

Kolkata : पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस के दो राज्यसभा सांसदों समेत आठ विपक्षी सांसदों को सस्पेंड किये जाने को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए केंद्र सरकार को चेतावनी दी है. सोमवार को इसे लेकर ममता ने ट्वीट किया है. इसमें उन्होंने लिखा है कि किसानों के हित के लिए लड़नेवाले 8 सांसदों को सस्पेंड किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है. यह केंद्र सरकार की तानाशाही मानसिकता को दर्शाता है. केंद्र सरकार लोकतांत्रिक मूल्यों का सम्मान नहीं करती है. हम लोग झुकेंगे नहीं. केंद्र की तानाशाही सरकार के खिलाफ संसद से सड़क तक लड़ाई लड़ेंगे.

इसे भी पढ़ें – सरकारी नौकरी के लिए 2016 में बनी नियोजन नीति को  HC ने बताया गलत, कोई भी किसी जिले में कर सकता है आवेदन

बाहुबल से पास कराया गया है बिल   

ममता बनर्जी ने आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार ने बाहुबल का इस्तेमाल कर बिल पास कराया है. केंद्र पर हमला बोलते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि फासीवादी सरकार देश चला रही है. इसके खिलाफ लगातार लड़ाई लड़ूंगी. लोकतंत्र की हत्या की जा रही है. किसान बिल के प्रस्ताव ऐसे हैं कि किसानों को और अधिक आत्महत्या करने पर मजबूर होना पड़ेगा. केंद्र सरकार किसानों की जमीन हथियाने की कोशिश कर रही है. इस बिल की वजह से अब किसान हर तरह के सहारे से वंचित होंगे. उल्लेखनीय है कि सोमवार को राज्यसभा में बिल की प्रति फाड़ने के कारण तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन सहित आठ सांसदों को राज्यसभा से सस्पेंड किया गया है. इसको लेकर ममता ने अपनी नाराजगी जतायी. उन्होंने सांसदों के बर्ताव को भी जायज ठहराया और कहा कि उनके सांसदों समेत विपक्ष के अन्य सांसदों ने जो कुछ भी किया है वह ठीक किया है.

advt

इसे भी पढ़ें – सरना धर्मकोड को लेकर मंगलवार को विधानसभा में प्रस्ताव लायेगी झारखंड सरकार

advt
Advertisement

One Comment

  1. 538816 373339I discovered your weblog web site on google and appearance some of your early posts. Maintain up the outstanding operate. I just extra the RSS feed to my MSN News Reader. Seeking for forward to reading a lot more on your part later on! 865848

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button