Jharkhandlok sabha election 2019Ranchi

रांची सीट में भाजपा प्रत्याशी की जीत सुनिश्चित करेंगे समर्थित पार्षद : डिप्टी मेयर

  • बूथ मैनेजमेंट में पार्षद की भूमिका होगी महत्वपूर्ण, 53 में कुल 25 पार्षद है भाजपा समर्थित

Ranchi : रांची संसदीय सीट से भाजपा प्रत्याशी के जीत सुनिश्चित करने के लिए पार्टी समर्थित निगम पार्षद की बैठक गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित हुई. बैठक में चुनाव में पार्षदों की भूमिका और अपने उनके वार्डों में भाजपा प्रत्याशी के प्रचार में काम करने की भूमिका पर विस्तार से चर्चा हुई.

Jharkhand Rai

अध्यक्षता कर रहे भाजपा समर्थित और निगम के डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय ने बताया कि रांची लोकसभा सीट पर कब्जा करने के लिए भाजपा अपने समर्थित पार्षदों की पूरी ताकत लगायेगी. पार्टी के सभी एक्टिव जनप्रतिनिधियों को इसी संदर्भ में बुलाया गया है. एक तरफ संगठन तो अपना काम कर रहा है, दूसरी तरफ वार्डों के जनप्रतिनिधि ने भी अपने क्षेत्रों में कई जमीनी स्तर के कामों को अंजाम दिया है. क्षेत्र के लोगों से इन पार्षदों का सीधा संपर्क है.

ऐसे में इन पार्षदों के सहयोग और तालमेल से क्षेत्र में हम ऐसा माहौल बनायेगें कि जिससे रांची लोकसभा सीट से पार्टी प्रत्याशियों की भारी जीत सुनिश्चित हो सके.

इसे भी पढ़ें : वाहन चेकिंग के दौरान मांडर में कार से मिले 9 लाख 23 हजार कैश

Samford

बूथ मैनेजमेंट में पार्षदों की भूमिका होगी महत्वपूर्ण

बता दें कि भाजपा ने रांची लोकसभा महानगर क्षेत्र के लिए आरआरडीए चेयरमैन परमा सिंह और डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय को बूथ मैनेजमेंट की जिम्मेवारी दी है. रांची लोकसभा सीट पर कब्जा करने के लिए भाजपा ने अपने समर्थित पार्षदों के सहयोग से पूरी ताकत झोंक दी है.

इसमें सबसे पहला फोकस बूथ मैनेजमेंट है, इसलिए इसमें स्थानीय स्तर के नेताओं को जिम्मेवारी दी गयी है. इन दिनों निगम क्षेत्र कुल 53 पार्षद हैं, जिसमें करीब 25 वार्ड पार्षद भाजपा समर्थित हैं. पार्षदों को बूथ मैनेजमेंट में लगाने के पीछे का तर्क है कि निगम स्तर से सीधे मुहल्लों में जनहित के कार्य होते हैं.

साफ-सफाई, पेयजल, स्ट्रीट लाइट, आवास योजना, वृद्धावस्था और विकलांगता पेंशन समेत अन्य कार्यों के लिए वार्ड के लोग पार्षद से जुड़े रहते हैं.

इसे भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट ने की योगेंद्र साव और निर्मला देवी की जमानत रद्द, जमानत की शर्तों का किया था उल्लंघन

ये पार्षद है भाजपा समर्थित

नकूल तिर्की (वार्ड 1), गंदुरा मुंडा (वार्ड 2), बासंती लकड़ा (वार्ड 3), सुजाता कच्छप (वार्ड 7), वीणा अग्रवाल (वार्ड 8), रंजू सिंह (वार्ड 11), दिनेश राम (वार्ड 14), रोशनी खलखो (वार्ड 19), सुनील यादव (वार्ड 20), विजय लक्ष्मी सोनी (वार्ड 24), अर्जुन राम (वार्ड 25), अरुण झा (वार्ड 26), ओमप्रकाश (वार्ड 27), रश्मि चौधरी (वार्ड 28), अशोक यादव (वार्ड 31), सुनीता देवी (वार्ड 32), विनोद सिंह (वार्ड 34), झड़ी लिंडा (वार्ड 35), दीपक लोहरा (वार्ड 38), वेद प्रकाश सिंह (वार्ड 39), शुचिता रानी राय (वार्ड 40), कृष्णा महतो (वार्ड 42), रीता मुंडा (वार्ड 46), सविता लिंडा (वार्ड 51).

इसे भी पढ़ें : सरकार को ब्यूरोक्रेट्स पर भरोसा- टेक्नोक्रेट्स, शिक्षाविद् और स्पेशलिस्ट दरकिनार

प्रत्याशी कौन,यह नहीं बल्कि जीत है प्रमुख मुद्दा

रांची सीट से भाजपा के प्रत्याशी नाम की घोषणा के पहले बैठक के सवाल पर डिप्टी मेयर ने बताया कि मुद्दा यह नहीं है कि पार्टी किसे टिकट देती है. पार्टी के पार्षद और कार्यकर्ताओं का केवल एक ही लक्ष्य है कि केंद्रीय नेतृत्व जिसे भी टिकट दें, उनका जीत सुनिश्चित हो.

वहीं पूर्व सांसद रामटहल चौधरी के निर्दलीय चुनाव लड़ने पर कहा कि इस पर वे कोई प्रतिक्रिया नहीं देना चाहते है. पार्टी समर्थित पार्षद और वे खुद भाजपा की सेना है. उन्होंने केवल पीएम मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के नेतृत्व पर भरोसा है. पार्टी जिसे भी टिकट देगी, हम उन्हें जीत सुनिश्चित करने पर काम करेंगे.

इसे भी पढ़ें : धनबादः पीएन सिंह को समर्थन देने की MLA संजीव सिंह ने कही बात, नीरज हत्याकांड में हुए पेश

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: