Crime NewsLead NewsNational

विधवा महिला सिपाही को मैट्रिमोनियल साइट पर दोस्ती पड़ी महंगी, शादी का झांसा देकर 60,00,000 रुपये ठगे

आरोपी ने खुद को कनाडा का NRI बताकर बहाने बनाकर कई बैंक खातों में रुपये ट्रांसफर कराए

New Delhi : साइबर अपराधी ने मैट्रिमोनियल साइट के जरिये एक महिला सिपाही से दोस्ती करने के बाद शादी का झांसा देकर 60 लाख रुपये ठग लिये. आरोपी ने खुद को कनाडा का एनआरआई बताकर बहाने बनाकर कई बैंक खातों में रुपये ट्रांसफर कराए थे. इस संबंध में महिला ने नोएडा सेक्टर-36 स्थित साइबर क्राइम थाने में महिला सहित दो आरोपियों के खिलाफ नामजद शिकायत दर्ज कराई है.

इसे भी पढ़ें:मेयर आशा लकड़ा ने की खाद्यान्न आवक पर रोक न लगाने की अपील, कहा-बिल में संशोधन की जरूरत

क्या है मामला

Chanakya IAS
SIP abacus
Catalyst IAS

मेरठ के दौराला स्थित समौली रोड निवासी महिला ने पुलिस को शिकायत दी कि वह वर्ष 2016 से असम राइफल्स में सिपाही के पद पर कार्यरत है. तीन मई 2021 को उनके पति की हार्टअटैक से मौत हो गई थी. परिजनों और रिश्तेदारों के कहने पर उन्होंने सितंबर 2021 में एक मैट्रिमोनियल साइट पर प्रोफाइल बनाई थी.

The Royal’s
Sanjeevani
MDLM

इस दौरान संजय सिंह नाम के व्यक्ति ने उनसे संपर्क किया. उसने बताया कि वह कनाडा का एनआरआई है. फिलहाल दिल्ली स्थित टेलीकॉम कंपनी में काम करता है. उसकी मां कनाडा में है. संजय ने महिला की मेडिकल समस्या जानने के बाद भी उससे शादी करने का आश्वासन दिया.

इसे भी पढ़ें:सीबीआइ की रेड से बेफिक्र मालिश कराते नजर आये तेजप्रताप

पहले दो लाख रुपये मांगे

आरोपी ने 4 अक्टूबर 2021 को कहा कि उनके भतीजे का एक्सीडेंट हो गया है. उसने उसका इलाज कराने के लिए उनसे 2 लाख रुपये मांगे. महिला ने उसके बताए गए बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर कर दिए. कुछ दिन बाद आरोपी ने कहा कि भतीजे की मौत हो गई है. कंपनी ने उनका खाता बंद कर दिया है. इस वजह से रुपये नहीं निकाल पा रहे हैं. इस बार भी आरोपी ने पीड़िता से रुपये ले लिए.

इसके कुछ दिन बाद आरोपी ने कहा कि उनकी मां कनाडा से नकदी लेकर आ रही है. उनकी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव होने के चलते दुबई एयरपोर्ट पर रोक दिया गया है. आरोपी ने कस्टम चार्ज सहित अन्य बहानों से महिला से 60 लाख रुपये ले लिये.

जनवरी 2022 में सुनीता नाम की महिला ने खुद को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की अधिकारी बताकर पीड़िता से बात की. उसने भी लेट फीस के बहाने महिला से पैसे ले लिए थे.

पीड़ित महिला की शिकायत पर साइबर क्राइम थाना पुलिस ने आरोपी संजय सिंह और महिला सुनीता वर्मा के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

इसे भी पढ़ें:पलामू: चुनाव प्रचार में नहीं जाने पर प्रत्याशी ने वोटर को पीटा, सिर में लगे छह टांके

पीड़िता ने रिश्तेदारों से उधार लेकर दी रकम

महिला का कहना है कि आरोपी ने उससे कई बार में करीब 60 लाख रुपये ले लिए. ये रुपये आरोपी ने अलग-अलग 20 बैंक खातों में ट्रांसफर कराए. पीड़िता ने बताया कि उसने अपने रिश्तेदारों और सहकर्मियों से उधार लेकर आरोपी को रुपये दिए थे.

आरोपी का फोन बंद

पीड़िता ने आरोपी से अपने रुपये वापस मांगे तो उसने कहा कि वह न्यूयार्क में फंस गया है. वह पैसे नहीं दे सकता है. इसके बाद उसने अपना मोबाइल फोन बंद कर लिया. पुलिस नंबर के बारे में जानकारी जुटा रही है.

विदेशी गिरोह सक्रिय

नोएडा, दिल्ली, गुरुग्राम, गाजियाबाद, मेरठ समेत पूरे एनसीआर में नाइजीरियन गिरोह सक्रिय हैं, जो किसी से शादी के नाम पर तो किसी को विदेश में कारोबार कराने के नाम पर ठग रहे हैं. इन साइबर ठगों ने पिछले कुछ समय में एक-दो नहीं बल्कि 500 से अधिक लड़कियों को अपना शिकार बनाया है.

इसे भी पढ़ें:Gyanvapi Masjid Case: इलाहाबाद हाई कोर्ट ने 6 जुलाई तक स्थगित की सुनवाई, ज्ञानवापी के बाहर नमाजियों की भारी भीड़

Related Articles

Back to top button