JamtaraJharkhandMain Slider

क्यों चर्चा में हैं जामताड़ा के SP अंशुमन कुमार-DC से विवाद, विवादस्पद ट्वीट

विज्ञापन

Ranchi: जामाताड़ा के एसपी अंशुमन कुमार इन दिनों चर्चा में हैं. ब्यूरोक्रेसी के बीच. पर क्यों. अब तक दो वजहें सामने आयी हैं. पहली यह कि उनकी और वहां के डीसी फैज अहमद मुमताज के बीच किसी बात को लेकर विवाद है. पहले तो अंशुमन कुमार ने ट्विटर पर डीसी पद के खिलाफ ही लिखा. IPS संवर्ग को लेकर भी टिप्पणी की. बाद में ट्विटर एकाउंट को ही निष्क्रिय कर दिया. लेकिन उनकी पोस्ट का स्क्रिन शॉट वायरल है. 13 अगस्त को परेड की रिहर्सल के दौरान विवाद सार्वजनिक हो गया. जिसे प्रशासन व पुलिस के अफसरों ने देखा और सुना. सभी हतप्रभ हैं. मामले की जानकारी पुलिस मुख्यालय और सरकार तक भी पहुंची है.

जामताड़ा एसपी अंशुमन कुमार द्वारा किया गया ट्वीट.

इसे भी पढ़ें- राजस्थान में आज से विधानसभा का सत्र, विश्वास-अविश्वास प्रस्ताव के बीच फंसा सेशन

कार्यपालक दंडाधिकारी जैसे पद क्यों बने

IPS अंशुमन कुमार ने बीते 11 अगस्त को अपने टि्वटर हैंडल से लिखा है कि तमाम न्यायिक अधिकार न्यायिक दंडाधिकारियों को मिले हुए हैं. फिर कार्यपालक दंडाधिकारी जैसे पद क्यों बना कर रखे गए हैं ? IPS अधिकारी के अनुसार सिस्टम कुछ ऐसा होना चाहिए कि संस्थाएं मजबूत हो. मजबूत संस्थाओं का भटकाव कम होगा. इसके अलावा अंशुमन कुमार ने एक और ट्वीट करते हुए लिखा कि भारत में आज भी ब्रिटिश सरकार द्वारा बनाए गए कानूनों का पालन किया जा रहा है. हम अब भी आइपीसी, सीआरपीसी और भारतीय आइइए को लेकर क्यों चल रहे हैं.

advt
जामताड़ा एसपी अंशुमन कुमार द्वारा किया गया ट्वीट.

इसे भी पढ़ें- 13 अगस्त को झारखंड में कोरोना संक्रमण के 629 नये केस, 5 की मौत, कुल आंकड़ा पहुंचा 20950

IPS की स्थिति सिपाही से भी बदतर हो जाती है

3 अगस्त को अंशुमन कुमार ने अपने ट्विटर हैंडल ट्वीट करते हुए लिखा है की पुलिस की स्वायत्तता समिति होनी चाहिए. उन्होंने कहा है लोगों को यह अंदाजा भी नहीं होगा कि IPS कितने तनाव में काम करते हैं. कभी-कभी तो उनकी स्थिति सिपाही से भी बदतर हो जाती है. लगातार तबादला और अस्थिरता तो है ही कुछ ऐसी बातें हैं जो लिखी ना जा सकती हैं और न कही जा सकती हैं.

जामताड़ा एसपी अंशुमन कुमार द्वारा किया गया ट्वीट.

इसे भी पढ़ें- कोविड-19 के गंभीर मरीजों के इलाज में मददगार साबित हो रही है ईसीएमओ तकनीक

रिहर्सल के दौरान डीसी और एसपी के बीच विवाद

स्वतंत्रता दिवस मनाने को लेकर गुरुवार को जामताड़ा के गांधी मैदान में फुल रिहर्सल किया गया था. परेड निरीक्षण और ध्वजारोहण के रिहर्सल के दौरान डीसी फैज अहमद मुमताज और एसपी अंशुमन कुमार के बीच विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गयी थी. यह मामला वरीय पदाधिकारियों तक पहुंच गया.

adv
जामताड़ा एसपी अंशुमन कुमार द्वारा किया गया ट्वीट.

डीसी फैज अहमद मुमताज समारोह स्थल पर निर्धारित समय से पहले पहुंच गये, जबकि अंशुमन कुमार निर्धारित समय पर गांधी मैदान पहुंचे. एसपी को मौजूद ना देख डीसी ने तत्काल वरीय पदाधिकारी को इसकी सूचना दी. वरीय पदाधिकारी ने एसपी को फोन कर इस मामले में पूछा जिसको लेकर समारोह स्थल पर ही दोनों के बीच इस मुद्दे पर बहस होने लगी.

advt
Advertisement

12 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button