Lead NewsNationalNEWS

जिसकी हत्या के आरोप चार लोग काट रहे हैं जेल वह 13 साल बाद जिंदा मिला

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले का मामला, साजिश की आशंका

Bhadohi : भदोही जिले में चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जिस व्यक्ति की हत्या के मामले में चार लोग जेल की सजा काट रहे हैं वह व्यक्ति तेरह साल बाद जिंदा मिला है. मामला जिले चक निरंजन गांव है. गांव बेचनराम तिवारी ने पुलिस के समक्ष शिकायत दर्ज कराई थी चार पड़ोसियों ने उसके भाई जोखन की अपहरण के बाद हत्या कर दी है. इस आरोप में चारों को सजा हुई थी. अब 13 साल बाद जोखन पकड़ा गया है. पुलिस उससे पूछताछ कर रही है.

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार बेचनराम तिवारी निवासी चकनिरंजन ने 31 अक्टूबर 2010 को पुलिस के पास आरोप लगाया था कि गांव के दूधनाथ तिवारी, काशीनाथ तिवारी और उनके रिश्तेदार छोटन तिवारी, वंशराज तिवारी ने उसके भाई जोखन की अपहरण के बाद हत्या कर शव को गायब कर दिया है. गोपीगंज कोतवाली में अपहरण और मारपीट का मुकदमा दर्ज कर चारों को जेल भेज दिया था. मामले के जांचकर्ता उप निरीक्षक आरपी राम ने मौके से खून से सनी मिट्टी भी बरामद किया था. इस मामले में जांचकर्ता ने कथित आरोपितों को रिमांड पर लेकर भी पूछताछ किया था.

 

बताया जाता है कि  खून लखनऊ स्थित लैब में जांच के लिए भेजा गया था. जांच में कम खून होने के कारण स्थिति स्पष्ट न होने की रिपोर्ट कोर्ट में भेज दी गई थी. फास्टट्रैक कोर्ट ने सुनवाई के बाद वर्ष 2009 में चारों लोगों की छह साल की सजा कर दी. तीन साल एक माह जेल में रहने के बाद चारों लोग वर्ष 2013 में रिहा हुए. इस बीच  जोखन की पत्नी निषा भी गायब हो गई थी. तीन साल बाद जब वह घर आई तो उसके साथ दो बच्चे देखकर परिवार के लोगों को आशंका होने लगी. इसी दिन से पड़ोस के लोग नजर गड़ाए हुए थे. बुधवार को अचानक जोखन घर पर दिख गया तो दूधनाथ की पत्नी शकुंतला ने पुलिस को सूचना दे दी. पुलिस ने जोखन को गिरफ्तार कर कोतवाली ले आई और उसकी पत्नी निषा से पहचान कराई.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: