न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#WHO ने भारत को चेतायाः सिर्फ #Lockdown21 से नहीं रुकेगा Corona, अभियान चलाकर तेजी से करनी होगी संदिग्धों की जांच

2,802

NW Desk: दुनिया कोरोना वायरस की कैद में है. भारत में भी ये जानलेवा वायरस तेजी से फैल रहा है. इसे रोकने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों ने कई कदम उठाये हैं.

देश में 21 दिनों का लॉकडाउन घोषित है.  विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी भारत के इस फैसले की तारीफ  की है और कहा है कि भारत ने जल्दी ही देश में लॉकडाउन किया है जो एक सराहनीय कदम है. लेकिन डब्ल्यूएचओ ने भारत को चेताया है कि सिर्फ लॉकडाउन से कोरोना वायरस के कहर से नहीं बचा सकता है.

उन्होंने कहा कि इससे बस कुछ वक्त मिल जायेगा. इससे सिर्फ हेल्थ सिस्टम पर दवाब घटेगा. इसलिये जरुरी है इस दौरान बड़े पैमाने पर लोगों मे हुए संक्रमण की जांच की जाये.

गौरतलब है कि भारत की सरकार इस मौके का फायदा नहीं उठा पा रही है. अब भी देश भर में बड़े पैमाने पर जांच शुरु की गई है और ना ही अस्पतालों में जांच किट की व्यवस्था है.

इसे भी पढ़ेंःप्रेमकुमार मणि का पीएम मोदी को पत्र– “जब संक्रमण फैल रहा था, आपने कुछ नहीं किया”

Whmart 3/3 – 2/4

सिर्फ लॉकडाउन काफी नहीं- WHO

आजतक के सवाल पर WHO चेयरमैन डॉ. ट्रेडोस, माइकल रेयान, डॉ. मारिया वैन ने भारत से जुड़े मसलों पर बात की. जब उनसे भारत के 21 दिनों के लॉकडाउन और तीसरी स्टेज पर सवाल पूछा गया तो कहा कि सिर्फ लॉकडाउन से कोरोना का खतरा नहीं टलता है.

WHO के चेयरमैन डॉ. ट्रेडोस ने ये भी कहा कि, ‘भारत के पास कोरोना को हराने की क्षमता है. साथ ही कहा कि ये अच्छी बात है कि भारत ने काफी पहले ही लॉकडाउन करने का फैसला लिया है.

वहीं कोरोना संक्रमण के तीसरी स्टेज को लेकर डॉ. ट्रेडोस ने कहा कि जिन देशों में सही वक्त पर कड़े फैसले नहीं लिए गए और सावधानियां नहीं बरती गयीं, वहां पर इसका बुरा असर दिख रहा है, ऐसे में हर किसी के सामने यही चैलेंज है कि सही कदम उठाए जाएं.

इसे भी पढ़ेंः#Corona से देश में 12वीं मौत, श्रीनगर में 65 वर्षीय व्यक्ति ने तोड़ा दम 

विश्व स्वास्थ्य संगठन के डॉ. रेयान ने कहा कि लॉक डाउन एक सराहनीय कदम है. लेकिन अब आगे भारत को केस की तलाश करनी होगी. कोरोना से पीड़ित लोगों की जांच करने होगी.  कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में जो भी व्यक्ति आया है, उनकी जांच करनी होगी. उन्हें निगरानी में रखना होगा, अगर ये सब होता है तो कोरोना को बढ़ने से रोका जा सकता है.

लॉक डाउन को लेकर डॉ. मारिया वैन बोलीं कि ऐसा नहीं है कि आप एक वक्त तक लॉक डाउन लगाकर इससे छुटकारा पा सकते हैं, आपको अपनी नीति में बदलाव करना होगा. और जहां पर केस ज्यादा हैं, वहां ज्यादा सावधानी बरतनी होगी. ऐसे में चीन और सिंगापुर का मॉडल अपनाया जा सकता है, क्योंकि वहां पर अलग-अलग क्षेत्र में कई तरह के फैसले लिए गए हैं.

हालांकि, डब्ल्यूएचओ ने एक बार फिर कहा कि भारत ने पोलियो से दुनिया को निजात दिलायी है, ऐसे में कोरोना पर भी वह कमाल कर सकता है.

इसे भी पढ़ेंः#Lockdown21: प्रशासन की सख्ती के बाद भी रोजाना बाजार में उमड़ रही भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं रखा जा रहा ख्याल

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like