Corona_Updates

WHO ने कोरोना से निपटने के भारत के प्रयासों की तारीफ की, पर डेटा मैनेजमेंट पर भी ध्यान केंद्रित करने को कहा

विज्ञापन

New Delhi: कोरोना के खिलाफ पूरी दुनिया जंग लड़ रही है. भारत भी इससे निपटने में लगा हुआ है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में भारत के प्रयासों की तारीफ की है. लेकिन  डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि भारत को अब कोरोना वायरस से जुड़े डेटा मैनेजमेंट पर भी फोकस करना चाहिए. डब्ल्यूएचओ के अनुसार भारत की सबसे बड़ी समस्या विशाल जनसंख्या और भौगोलिक विविधता है.

इसे भी पढ़ें – झारखंड में कोरोना का कहर : एक ही दिन 3 की गयी जान, राज्य में संक्रमण से अब तक 18 मौतें

advt

मजबूत राजनीतिक नेतृत्व

डब्ल्यूएचओ ने भारत के मजबूत राजनीतिक नेतृत्व की तारीफ की. उसने कहा है कि भारत ने कोरोना वायरस की महामारी में टेस्टिंग से लेकर उसे बड़े स्तर तक ले जाने तक में अच्छी भूमिका अदा की है.

भारत में लगाये गये लॉकडाउन और अनलॉक की भी डब्ल्यूएचओ ने तारीफ की है. डब्ल्यूएचओ ने कहा कि लेकिन अब हम नये चरण में पहुंच गये हैं, इसलिए भारत और इसके जैसे दूसरे देशों को एक लंबी रणनीति के बारे में सोचना चाहिए.

टेस्टिंग के मामले में आत्मनिर्भर

डब्ल्यूएचओ की चीफ साइंटिस्ट डॉ. सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि आज भारत प्रतिदिन 2 लाख से अधिक कोरोनो टेस्ट कर रहा है. साथ ही भारत टेस्टिंग किट भी विकसित कर रहा है. ये भारत के लिए बड़ी सफलता है कि भारत टेस्टिंग के मामले में आत्मनिर्भर हुआ है. और इसे आगे बढ़ा भी रहा है.

adv

इसे भी पढ़ें – MNREGA: जॉब के लिए रोजगार सेवक, वार्ड सदस्य, मुखिया को दें आवेदन, 24 घंटे के अंदर मिलेगा काम

डेटा के लिए नेशनल गाइलाइन जरूरी

डॉ. सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि कोरोना वायरस से जुड़े डेटा को कैसे रिपोर्ट करना है इसको लेकर नेशनल गाइडलाइन होनी चाहिए. अगर ऐसा नहीं होता है तो आप डेटा की तुलना नहीं कर पायेंगे. हर इकाई अपने तरीके से चीजों को रिपोर्ट कर रही है. डब्ल्यूएचओ ने कुछ तरीके भी बताये हैं, जिसे सरकार अपना सकती है.

इसे भी पढ़ें – पाक में चीन को लेकर तकरार, आमने-सामने इमरान और विदेश विभाग

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close