Main SliderWorld

कोरोना वैक्सीन पर बोला WHO : रूस को आगे नहीं बढ़ना चाहिए

News Wing Desk : कोरोना वायरस को लेकर दुनियाभर में हुई आलोचनाओं का कोई असर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) पर नहीं पड़ा है. रूस द्वारा वायरस का वैक्सीन बना लेने के दावे के बाद WHO ने धमकाने वाले अंदाज में रुस के खिलाफ बयान दिया है.

WHO  ने कहा है कि वैक्सीन के मामले में रूस को आगे नहीं बढ़ना चाहिए. रूस ने दो दिन पहले वैक्सीन को मंजूरी दी थी. साथ ही देश के लोगों को वैक्सीन देने का काम शुरु किया था. दुनिया के कई देश रूस से वैक्सीन का ऑर्डर करने की तैयारी में हैं.

इसे भी पढ़ें – CM नीतीश के उद्घाटन के ठीक पहले ही टूट गयी बंगरा घाट महासेतु की अप्रोच सड़क,उठ रहे सवाल  

advt

रूस के तैयार किये गये वैक्सीन का जानकारी उसे नहीं – WHO

बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, डब्लूएचओ ने कहा है कि उसके पास अभी तक रूस के द्वारा वैक्सीन विकसित करने की जानकारी नहीं है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधीन आने वाले पैन-अमेरिकन हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के सहायक निदेशक जरबास बारबोसा ने कहा है- “कहा जा रहा है कि ब्राजील वैक्सीन बनाना शुरु करेगा.

लेकिन जब तक ट्रायल पूरे नहीं हो जाते ये नहीं किया जाना चाहिए. वैक्सीन बनाने वाले किसी को भी इस प्रक्रिया का पालन करना है, जो सुनिश्चित करेगा कि वैक्सीन सुरक्षित है और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने उसकी सिफारिश की है.”

उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी विश्व स्वास्थ्य संगठन ने रूस से आग्रह किया था कि वो कोरोना का वैक्सीन बनाने के लिए अंतरराष्ट्रीय गाइडलाइन का पालन करे.

कोरोना पर WHO की आलोचना पूरे विश्व में हो रही

कोरोना को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन की दुनियाभर में आलोचना हो रही है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी डब्लूएचओ पर आरोप लगाया था कि वह चीन के प्रभाव में काम कर रहा है. कोरोना को लेकर अमेरिका समेत दुनियाभर के देशों को जानकारी देने में देरी की.

adv

इसके साथ ही दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बिल गेट्स पर भी यह आरोप लग रहे हैं कि फार्मा कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए कोरोना वायरस का डर फैलाया जा रहा है. ताकि बाद में वैक्सीन को दुनियाभर में बेचकर भारी मुनाफा कमाया जा सके.

अब चूंकि रूस ने सबसे पहले वैक्सीन तैयार कर ली है और वह अपने लोगों को वैक्सीन दे भी रहा है, तब डब्लूएचओ की आपत्ति कई सवाल खड़े कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें –JBVNL को मिला सब्सिडी का 500 करोड़, पिछले साल की राशि मिली थी देर से, देना था 1350 करोड़

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button