न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आजसू ने डीजीपी से पूछा सुदेश महतो की हत्या की सुपारी देनेवाला राजनेता कौन?

आजसू पार्टी का प्रतिनिधिमंडल डीजीपी से मिला

592

Ranchi: आजसू पार्टी के केन्द्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो की हत्या की सुपारी देनेवाला राजनेता कौन है. इसका खुलासा पुलिस प्रशासन करे. इसी मांग को लेकर आजसू पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल ने झारखंड के डीजीपी डीके पांडेय से मुलाकात की. इस दौरान आजसू ने डीजीपी से कहा कि इस साजिश में संलिप्त तमाम साजिशकर्ताओं को खोज निकालने तथा उन सभी पर अविलंब कार्रवाई करने का काम पुलिस प्रशासन करे.

इसे भी पढ़ें-रांची-टाटा हाइवे में हैं हजारों गड्ढे, अधूरा सड़क का निर्माण महीनों से रूका

पहले भी सुदेश महतो की हत्या का प्रयास किया गया

hosp3

आजसू प्रतिनिधिमंडल ने डीजीपी को सौंपे गये मांग पत्र में कहा कि झारखंड गठन के बाद पूर्व में भी दो बार सुदेश महतो की हत्या का प्रयास किया गया. अनगड़ा थाना पुलिस के द्वारा गिरफ्तार पीएलएफआइ के जोन्हा एरिया कमांडर देवसिंह मुंडा ने अपनी स्वीकारोक्ति बयान में पुलिस के समक्ष कहा है कि इसके पीछे किसी राजनेता का हाथ है. वह नेता कौन है, जिसने सुदेश महतो की हत्या के लिए पांच करोड़ की सुपारी पीएलएफआइ को दी. आजसू पार्टी उस नेता के नाम का खुलासा करने की मांग पुलिस प्रशासन से करती है.

इसे भी पढ़ें-मुख्य सचिव ने कहा- बिना परीक्षा नहीं होगा पारा शिक्षकों का समायोजन

सुदेश महतो की लोकप्रियता से घबरा गये हैं कई नेता

डीपीजी से कहा गया है कि झारखंड में निर्मल महतो, पूर्व मंत्री रमेश सिंह मुंडा, पूर्व सांसद सुनील महतो, पूर्व विधायक महेन्द्र सिंह शरीखे कई राजनेताओं की राजनीतिक हत्याएं हुई हैं. सुदेश कुमार महतो आजसू पार्टी के केन्द्रीय अध्यक्ष एवं झारखंड सरकार के पूर्व मुख्यमंत्री तथा झारखंड के लोकप्रिय राजनेता हैं. हमेशा झारखंड की राजनीति के केन्द्र में रहे हैं. झारखंड के संवेदनशील विषयों को उठाते रहनेवाले और झारखंडी विचारधारा वाले प्रखर नेता हैं.

इसे भी पढ़ें- इग्नू से अब नहीं कर पायेंगे बीएड समेत 100 से ज्यादा कोर्सेज

प्रतिनिधिमंडल में आजसू पार्टी के मुख्य केन्द्रीय प्रवक्ता डॉ देवशरण भगत, केन्द्रीय उपाध्यक्ष हसन अंसारी, केन्द्रीय महासचिव राजेन्द्र मेहता और पार्टी के आंदोलनकारी नेता सरजीत मिर्धा शामिल थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: