INTERVIEWSJamshedpur

किस गीतकार ने रोते हुए कहा- दीदी मेरी श्रद्धांजलि आप स्वीकार करो, जानिए

Jamshedpur: आपको मनोज कुमार की फिल्म पूरब और पश्चिम के गीत पुरूआ सुहानी आई रे…., याद होगा. देश के मशहूर गीतकार संतोष आनंद का हिन्दी फिल्मों में पहला गीत था, जिसे लता मंगेशकर के साथ महेन्द्र कपूर और मनहर उधास ने आवाज दी थी. इसके बाद लता जी ने संतोष आनंद के जिस गीत को भी आवाज दी, वह अमर हो गया. वह चाहे एक प्यार का नगमा हो या फिर कोई और. खुद कई सालों से व्हील चेयर्स पर अपनी जिंदगी को खींच रहे संतोष आनंद लता जी के निधन पर इस कदर दुखी दिखे कि वे रोने लगे.
रोते हुए ये कहा कि बड़ी दुखद खबर है. बहुत दुखी हूं. अब तो बात ही खत्म हो गई. रात भर सो नहीं पाया. लता दीदी नहीं रही. मैंने पहला जो गीत लिखा, वह इनके साथ था. कितना उनका मेरे पर आशीर्वाद था. अलग से मुझे सलाह देती थीं. पिछले साल भी मुझे फोन किया. मेरी फोन पर उनसे बात होती थी. ये तो बात बाद में होती रहेगी. इस समय तो मेरा मन बहुत ही दुखी है. मैं उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना ही कर सकता हूं. दीदी जहां भी रहो, गीतों के साथ, शब्दों के साथ आप ऐसे ही अपने स्वरों की, सुरों की वर्षा करती रहो इस संसार पर. आप जैसा ना कोई हुआ और ना ही होगा. दीदी मेरी श्रद्धांजलि आप स्वीकार करो.

यह भी पढें-Lata Mangeshkar Passes Away: दो दिन तक आकाशवाणी जमशेदपुर पर नहीं बजेगी मंगल ध्वनि

Related Articles

Back to top button