Jamshedpur

बहन को मोबाइल देखने से रोका तो खा लिया जहर, अस्पताल में हुई मौत

मानगो के जवाहरनगर रोड नंबर 15 की है घटना, घर में बेहोश पड़ी थी आंचल, घटना के बाद परिजन इलाज कराने लेकर गए थे एलिट अस्पताल

Jamshedpur : मानगो थाना क्षेत्र के जवाहरनगर रोड नंबर 15 की रहने वाली आंचल कुमारी को उसके भाई ने रविवार को मोबाइल देखने से मना किया तो उसने जहर खाकर आत्महत्या कर ली. जहर खाने की जानकारी परिवार के लोगों को करीब आधे घंटे के बाद मिली. इसके बाद उसे इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल लेकर गये, जहां पर डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया.

जैक बोर्ड की परीक्षा की कर रही थी तैयारी

आंचल कुमारी के बारे में परिवार के लोगों ने बताया कि वह जैक बोर्ड की होने वाली परीक्षा की तैयारी कर रही थी. रविवार को अचानक भाई रोहित उसके कमरे में चला गया था और उसे मोबाइल देखते हुए देखा. इसके बाद ही दोनों के बीच विवाद शुरू हो गया था.

Chanakya IAS
Catalyst IAS
SIP abacus

दोनों ने एक-दूसरे की तोड़ी मोबाइल

The Royal’s
Sanjeevani
MDLM

इस बीच पहले तो भाई ने बहन की मोबाइल छीनकर तोड़ दी. उसके बाद गुस्से में बहन ने भी उसकी मोबाइल पटक कर तोड़ दी. झगड़े के बाद रोहित घर से बाहर निकल गया. इधर आंचल ने घर में रखी कोई जहरीली चीज खा ली.

घर में पड़ी थी बेहोश

रोहित जब आधे घंटे के बाद अपने घर पर लौटा, तब बहन के कमरे में जाते ही देखा कि वह बेहोश पड़ी है. इसके बाद मां को घटना की जानकारी दी और सभी लोग उसे लेकर पास के एलीट अस्पताल पहुंचे.

एलीट अस्पताल ने कर दिया एमजीएम रेफर

घटना के बाद परिवार के लोग उसे इलाज के लिए सबसे पहले एनएच 33 स्थित एलीट अस्पताल में लेकर गये. वहां के डॉक्टरों ने साफ कह दिया कि हालत नाजुक है, एमजीएम लेकर जाना पड़ेगा. इसके बाद परिवार के लोग उसे लेकर एमजीएम अस्पताल पहुंचे. अस्पताल में डॉक्टरों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया.

इकलौती बेटी थी आंचल

आंचल के बारे में उसके पिता अरविंद कुमार ने बताया कि वह इकलौती बेटी थी. वे इलेक्ट्रीशियन का काम करके घर-परिवार चलाते हैं. घटना के बाद परिवार के लोग सदमे में आ गये हैं.

इसे भी पढ़ें- चतरा के सिमरिया में स्कूली छात्रा से दुष्कर्म,  ग्रामीणों ने आरोपी को पकड़ पुलिस को सौंपा

Related Articles

Back to top button