BiharRanchi

ये क्या! गये तो थे दुल्हनियां लाने लेकिन खुद ही फंस गये में फेर में

Madhubani: कोरोना काल में शादियों पर भी ग्रहण लग गया है. की रिश्ते तो बिना जुड़े ही टूट गये. जबकि कुछ जुड़ते-जुड़ते भी टूट गये. कुछ शादियां ऐसी भी रहीं जो महामारी के दौर में सबके लिए एक सीख जैसी रही. लेकिन मधुबनी में एक शादी तो टूटी ही लेकिन उसके पहले बारातियों को पानी पिला गयी.

दरअसल मधुबनी बेनीपट्टी थाना इलाके में स्थित सोहरौल गांव में बारातियों का स्वागत बड़े ही च्छे से किया गया. वरमाला भी पूरे धूमधाम से हुआ. लेकिन शादी के वक्त मंडप में जैसे ही दुल्हन आयी तो लड़के को नापसंद करते हुए शादी से ही मना कर दिया. इसके बाद तो लड़का और लड़की के बीच हाईवोल्टेज ड्रामा चला.

लड़का पक्ष की ओर से इसपर हंगामा किया जाने लगा. तो लड़की पक्ष की ओर से दूल्हा से साथ ही 7 बारातियों को दो दिनों तक बंधक बना लिया गया. मामला जब पुलिस तक पहुंचा तो बारातियों को छुड़ाने आयी पुलिस पर भी लड़की पक्ष की ओर से पत्थबाजी की गयी. जिसमें एक लेडी कॉन्सटेबल घायल हो गयी.

इसे भी पढ़ें – क्या नेपोटिज्म के शिकार हुए सुशांत सिंह? एक्टर की मौत मामले में संजय लीला भंसाली से होगी पूछताछ

शादी में खर्च ढाई लाख की रकम मांग रहा था लड़की पक्ष

लोगों ने बताया कि 29 जून को बेनीपट्टी प्रखंड के चतरा गांव के रहने वाले जय प्रकाश साह की शादी शिवचंद्र साह की बेटी से होनी थी. 40 बारातियों के साथ लड़का पक्ष सोहरौल गांव पहुंचा. स्वागत बड़े ही अच्छे से किया गया. लेकिन जैसे ही शादी की रस्म शुरू हुई तो मंडप में कानाफूसी शुरू हो गयी. और फिर अचानक से लड़की पक्ष की महिलाएं विरोध करने लगीं. महिलाओं ने दूल्हे को मंदबुद्धि कहकर शादी से इनकार कर दिया.

लेकिन बारातियों ने जब इसका विरोध किया तो दोनों पक्षों के बीच विवाद काफी बढ़ गया. जिसके बाद लड़की पक्ष ने बारातियों को दो दिनों तक बंधक बना लिया. साथ ही लड़की पक्ष ने कहा कि शादी के इंतजाम में ढाई लाख रूपये खर्च हो गये हैं, जिसे बाराती चुकायें. इससे विवाद और बढ़ गया, कुछ बाराती तो भागने में सफल रहे. लेकिन दूल्हा और कुछ बारातियों को लड़की पक्ष ने बंधक बना लिया.

पुलिस ने छुड़ाया बारातियों को

मामले में बढ़ता विवाद को देख मौके पर पहुंची पुलिस ने पहले तो दोनों पक्षों को शांत कराया. फिर बंधक बनाये गये गूल्हा और बाराती छुड़ाकर उनके गांव रवाना किया.

बेनीपट्टी थाना प्रभारी महेंद्र कुमार सिंह ने इस बारे में बताया कि दूल्हे के भाई ने मामले में आवेदन दिया था. जिसके बाद पुलिस की टीम यहां पहुंची और बंधक बने गये बारातियों को छुड़ाया. साथ ही कहा कि पुलिस पर पथराव के अलावा बारातियों को बंधक बनाने के आरोप में लड़की पक्ष पर केस दर्ज किया गया है. और पूरे मामले की जांच की जा रही है.

इसे भी पढ़ें – राज्य के 4 आईपीएस अधिकारी का तबादला, सुरेन्द्र झा बने रांची एसएसपी

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close