न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मुख्यमंत्री के चीन दौरे का क्या है हिडेन एजेंडा, हो उजागर : कांग्रेस

400

Ranchi : मुख्यमंत्री रघुवर दास के चीन दौरे पर तंज कसते हुए कांग्रेस पार्टी ने कहा है कि विपक्ष में रहते समय रघुवर दास सहित उनका मंत्रिमंडल हमेशा चाइनीज सामान के बहिष्कार की अपील करते रहे हैं. अब वही रघुवर दास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नक्शेकदम पर चल चीन की यात्रा पर जा रहे हैं. आखिर उनके चीन दौरे का क्या हिडेन एजेंडा है, इसका उजागर होना जरूरी है. वह भी तब, जब चीन हमारे दुश्मन पाकिस्तान को हर तरह से मदद मुहैया करा रहा है. वहीं, राहुल गांधी के चीन के रास्ते कैलाश मानसरोवर यात्रा पर सवाल खड़ा करनेवाले भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा पर भी पार्टी ने निशाना साधा है. वहीं, राजद ने भी रघुवर दास की चीन यात्रा पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि इस यात्रा से भाजपा सरकार की दोहरी नीति उजागर होती है. जो चीन पाकिस्तान का सबसे बड़ा हितैषी और संरक्षक है,  वह भारत के साथ कभी मित्रवत व्यवहार कर नहीं सकता.

इसे भी पढ़ें- भविष्य में बच्चे मरे, तो CWC कार्यालय के समक्ष दफनाया जायेगा : झाविमो

चीन के दौरे पर गये हैं मुख्यमंत्री समेत तीन मंत्री

मालूम हो कि मुख्यमंत्री रघुवर दास शनिवार को चीन के पांच दिवसीय दौरे पर गये हैं. इस दौरान मुख्यमंत्री शंघाई और बीजिंग के प्रमुखों से मिलकर वहां के नगरीय प्रबंधन व शासन व्यवस्था के संचालन की जानकारी लेंगे. साथ ही, उनका वहां फूड प्रोसेसिंग मेला में भाग लेने का कार्यक्रम भी प्रस्तावित है. चीन यात्रा में मुख्यमंत्री के साथ वरीय अधिकारियों का शिष्टमंडल भी है. इसमें मंत्री सीपी सिंह,  नीलकंठ सिंह मुंडा और अमर बाउरी शामिल हैं.

विरोध करने के बाद चीन का दौरा क्यों

मुख्यमंत्री के चीन दौरे का क्या है हिडेन एंजेडा, हो उजागर : कांग्रेस
कांग्रेस प्रवक्ता लाल किशोर नाथ शाहदेव.

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने मुख्यमंत्री की चीन यात्रा पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री और उनके मंत्रिमंडलीय सहयोग जब विपक्ष में थे,  तो उन्होंने राज्यवासियों से चीन निर्मित सामान के बहिष्कार की अपील की थी. यहां तक कि चीन को भारत का कट्टर दुश्मन बताते हुए मुख्यमंत्री दिन-रात चीन की निंदा भी किया करते थे. दूसरी ओर वही मुख्यमंत्री अपने पूरे कुनबे के साथ अब चीन दौरे पर जा रहे हैं. मुख्यमंत्री की इस चीन यात्रा का हिडेन एजेंडा क्या है, इसका खुलासा होना चाहिए.

इसे भी पढ़ें- अजय मारू प्रकरण पर झामुमो ने कहा- SIT रिपोर्ट सार्वजनिक करे सरकार, अन्य भाजपा नेताओं के नाम होंगे…

मोदी के नक्शे कदम पर चल रहे हैं मुख्यमंत्री

लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नक्शे कदम पर ही चलने का काम कर रहे हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने चार वर्ष के कार्यकाल में ही विदेश यात्रा का शतक पूरा कर चुके हैं और इन यात्राओं पर एक हजार करोड़ रुपये से अधिक खर्च हुए. इसका कितना फायदा देशवासियों को मिला, इस संबंध में केंद्र को एक श्वेत पत्र जारी करना चाहिए. रघुवर दास के पूर्व विदेश यात्रा का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की पूर्व विदेश यात्रा से राज्य को कितना फायदा हुआ, कितनी विदेशी पूंजी का निवेश झारखंड में हुआ और कितने युवाओं को रोजगार मिला,  इसका खुलासा होना चाहिए.

इसे भी पढ़ें- पाकुड़ की इलामी पंचायत की मुखिया मिस्फिका बनीं BJP की प्रदेश प्रवक्ता, बीजेपी ज्वॉइन करते ही मिला था…

अब रघुवर दास की चीन यात्रा पर सवाल क्यों नहीं खड़ा कर रहे संबित पात्रा

लाल किशोरनाथ शाहदेव ने कहा कि अशोभनीय बर्ताव के लिए चर्चित भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा नयी दिल्ली में राहुल गांधी के चीन के रास्ते कैलाश मानसरोवर जैसी धार्मिक यात्रा पर सवाल उठा रहे हैं. जबकि, संबित पात्रा भूल जाते हैं कि उनकी ही पार्टी के मुख्यमंत्री पूरे कुनबे के साथ चीन यात्रा पर जा रहे हैं. कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि धार्मिक यात्रा पर सवाल उठानेवाले संबित पात्रा को अपनी पार्टी के नेता और मुख्यमंत्री रघुवर दास से ही सवाल पूछना चाहिए कि सीमा पर भारतीय सैनिकों पर वार करनेवाले चीन के राजनेताओं, उद्यमियों और पूंजीपतियों से मिलने के लिए सरकारी खर्च पर चीन क्यों जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें-  मोदी सरकार का तोहफा, अब हर दरवाजे पर बैंक : महेश पोद्दार              

मुख्यमंत्री की चीन यात्रा दोहरी नीति का उदाहरण : राजद

मुख्यमंत्री रघुवर दास की चीन यात्रा पर सवाल खड़ा करते हुए राजद प्रवक्ता डॉ. मनोज कुमार ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की चीन यात्रा भाजपा की दोहरी नीति का उदाहरण है. भारत के विरोध में चीन हमेशा काम करता रहा है. जिस चीन की डोकलाम पर गिद्ध जैसी दृष्टि है, जो पाकिस्तान का सबसे बड़ा हितैषी और संरक्षक है,  वह भारत से कभी मित्रवत व्यवहार नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता और उनके सहयोगी संगठन चीन के बने उत्पादों के बहिष्कार की अपील करते हैं. दूसरी तरफ आर्थिक विकास के नाम पर चीन के साथ दोस्ती का हाथ बढ़ाते हैं, यह भाजपा की दोहरी नीति ही है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: