ChaibasaCorona_UpdatesJharkhand

पश्चिमी सिंहभूम जिला हुआ कोरोना मुक्त, 6 लोग कोविड अस्पताल से डिस्चार्ज

Chaibasa: पश्चिमी सिंहभूम जिला कोरोनामुक्त हो गया है. गुरुवार को जिले के कोविड-19 डेडिकेटेड अस्पताल से आखिरी 6 लोगों को डिस्चार्च कर दिया गया. उपायुक्त अरवा राजकमल ने कहा कि अभी तक पश्चिमी सिंहभूम जिले में जितने भी कोविड-19 के पॉजिटिव मामले आये हैं उसकी संख्या 58 थी. गुरुवार को आज डिस्चार्ज किये गये 6 व्यक्तियों को शामिल करते हुए कोरोना वायरस को मात देने वाले व्यक्तियों की कुल संख्या 57 हो गयी है.

सभी 57 व्यक्तियों की दो बार जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने के उपरांत सभी को प्रोटोकॉल के अनुसार डिस्चार्ज किया गया है. उपायुक्त ने कहा कि जिला में एक व्यक्ति अभी भी इलाजरत है. उनका भी टेस्ट सैंपल नेगेटिव ही आया है, परंतु राज्य सरकार की मार्ग निर्देशिका के अनुसार कम से कम 10 दिन ऑब्जर्वेशन में रखा जाना है.

advt

अगले 3 दिन चिकित्सक उनको अपनी संपूर्ण निगरानी में रखेंगे और यदि उक्त व्यक्ति में बुखार इत्यादि जैसे किसी प्रकार के लक्षण नहीं दिखते हैं तो जांच के उपरांत उनको भी डिस्चार्ज कर दिया जायेगा. उपायुक्त ने कहा कि कुल 58 मामलों में तकनीकी रूप से देखा जाये तो सभी 58 व्यक्तियों की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आयी है जिनमें से 57 को डिस्चार्ज किया जा चुका है एक व्यक्ति अंडर ऑब्जर्वेशन है.

इसे भी पढ़ें – राज्य के तीन आईपीएस अधिकारियों का तबादला, आरके माल्लिक बने जेपीएचसीएल के एमडी

हाई रिस्क श्रेणी अंतर्गत आने वाले सभी व्यक्तियों की होगी जांच

उपायुक्त ने कहा कि डोर टू डोर सर्वे जो जिला में कराया गया है उसके तहत् जितने भी इन्फ्लूएंजा अथवा सीवियर एक्यूट रेस्पिरेट्री संबंधी दिक्कतों के साथ जो भी ग्रामीण जन अथवा शहरी नागरिक पाये गये हैं उनको भी चरणबद्ध तरीके से रिस्क प्रोफाइल के अनुसार जांच की जा रही है.

जिले में 2 ट्रूनेट मशीन हमारे पास उपलब्ध हैं जिससे कि जिला में ही करीब 60-70 टेस्ट प्रतिदिन करने में सक्षम हैं. आने वाले दिनों में जितने भी सिम्टम्स के साथ हम लोग घर-घर सर्वे के जो मामले आये हैं उनके साथ साथ जो हाई रिस्क प्रोफाइल है जैसे कि एंबुलेंस ड्राइवर, स्वास्थ्य कर्मी और पदाधिकारी पुलिस के पदाधिकारी, कर्मियों ने अग्रिम पंक्ति में खड़े होकर कार्य किया है उनको भी हाई रिस्क श्रेणी के आधार पर टेस्ट करायेंगे.

इसे भी पढ़ें – मंदिर में सिर्फ पुजारी करें पूजा, बाबाधाम और बासुकीनाथ को हाइजेनिक बनाये जिला प्रशासन : हेमंत सोरेन

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: