West Bengal

प बंगाल :  सिख की गिरफ्तारी पर गृह विभाग ने दी सफाई, कहा- एक पार्टी सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश में है

Kolkata :  पश्चिम बंगाल सरकार ने रविवार को कहा कि एक राजनीतिक संगठन ‘‘संकीर्ण राजनीतिक लाभ’’ के लिए उस घटना को जानबूझ कर ‘‘सांप्रदायिक रंग’’ देने की कोशिश कर रहा है जिसमें पिछले सप्ताह पुलिस के साथ झड़प में सिख समुदाय के एक व्यक्ति की पगड़ी उतर गयी थी.

Jharkhand Rai

राज्य के गृह विभाग ने एक ट्वीट में कहा कि व्यक्ति को भाजपा की सचिवालय तक रैली में अवैध आग्नेयास्त्र ले जाने के लिए कानून के अनुरूप गिरफ्तार किया गया है.

इसे भी पढ़ेंः बिहार में शर्मनाक वारदात, बैंक जा रही महिला के साथ गैंगरेप, बेटे के साथ बांधकर नदी में फेंका, बच्चे की मौत

गृह विभाग ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, “हमारे सिख भाई-बहन पश्चिम बंगाल में पूरी शांति , सद्भाव और खुशी से रहते हैं और अपनी आस्था और प्रथाओं के लिए उन्हें हम सबका सम्मान मिलता है.’’ इसमें आगे कहा गया,‘‘हाल ही की उस घटना को जहां एक प्रदर्शन में प्रदर्शनकारियों के बीच से एक व्यक्ति को अवैध रूप से आग्नेयास्त्रों के साथ पकड़ा गया,जो इसके लिए अधिकृत नहीं था, को अब तोड़ा मरोड़ा जा रहा है.

Samford

उसे गलत तरीके से पेश किया जा रहा है और राजनीतिक फायदे के लिए उसे सांप्रदायिक रंग दिया जा रहा है.’’
ट्वीट में कहा गया कि सिख पंथ के प्रति राज्य सरकार बहुत सम्मान का भाव रखती है.

गौरतलब है कि भाजपा के मार्च के दौरान सिख व्यक्ति की पुलिस द्वारा कथित तौर पर पिटाई किये जाने और उसकी पगड़ी खींचे जाने का वीडियो वायरल होने के बाद विवाद पैदा हो गया. लोगों ने आरोप लगाए कि पुलिस ले व्यक्ति की पगड़ी खींची थी.

इसे भी पढ़ेंः रांची और सिमडेगा में होगी सब जूनियर एवं जूनियर नेशनल महिला हॉकी प्रतियोगिता

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: