National

पश्चिम बंगाल : मोदी ने कहा, आपको एक ही बात याद रखनी है – चुपचाप, कमल छाप, TMC साफ

NewDelhi : पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार की अवधि खत्म होने के पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनसभा करने मथुरापुर पहुंचे. यहां पीएम मोदी ने सीएम ममता बनर्जी पर जमकर प्रहार किया. उन्होंने कहा कि बंगाल की जनता दीदी को लोकतंत्र का असली मतलब भी समझाने जा रही है. मोदी ने बीजेपी को 300 से ज्यादा सीट मिलने का दावा किया है.  कहा कि राशन की योजना, घर बनाने, सड़क बनाने की योजना और सभी केंद्रीय योजनाओं पर दीदी ने अपना स्टीकर लगा दिया.

अरे स्टीकर दीदी, आपके स्टीकर लगाने से हमें कोई दिक्कत नहीं है पर ये गरीबों का, देश का काम है, इसमें जरा तो ईमानदारी रखिए. आपको भी पुण्य मिलेगा.  ममता दीदी को पश्चिम बंगाल के सामान्य मानव की चिंता नहीं है, सिर्फ सत्ता का अहंकार है. वो भारत के प्रधानमंत्री को अपना प्रधानमंत्री नहीं मानतीं, लेकिन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री की प्रशंसा करते नहीं थकती.

बीजेपी के दफ्तर पर कब्जा करने की धमकी

मीडिया में मैंने देखा कि दीदी ने बीजेपी के दफ्तर पर कब्जा करने की भी धमकी दी है. दीदी, बीजेपी के कार्यकर्ताओं के घर पर कब्जा करने की भी धमकी दे रही हैं. दीदी बंगाल के बच्चों और बंगाल की बेटियों को बात बात में जेल भेज देती हैं. लेकिन घुसपैठियों और तस्करों को उन्होंने खुली छूट दे रखी है.   ममता दीदी से मैं कहना चाहता हूं कि चुनाव में जय पराजय होती रहती है, ये लोकतंत्र का हिस्सा है. कभी इसी बंगाल की जनता ने आपको इतना स्नेह दिया था और आज वही आपको हटाना चाहती है.

इसे भी पढ़ेंः पश्चिम बंगाल में पीएम मोदी की रैली, हिंसा की आशंका,  SPG ने अलर्ट जारी किया

बंगाल के गौरव भाजपा की प्राथमिकता

स्वामी विवेकानंद से लेकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी तक भाजपा के चिंतन को गढ़ने में बंगाल की संस्कृति का बहुत बड़ा योगदान रहा है.  बंगाल के गौरव  भाजपा की प्राथमिकता है. आज ईश्वर चंद विद्यासागर जी जहां भी होंगे, वो देख रहे होंगे कि कौन सा दल बंगाल के गौरव की रक्षा के लिए लड़ रहा है और कौन घुसपैठियों की रक्षा लिए.  ,

TMC के इन गुंडों ने रात को महान शिक्षाविद्, समाज सुधारक ईश्वर चंद विद्यासागर जी की मूर्ति को तोड़ दिया. उस कॉलेज में सीसीटीवी कैमरा लगे थे, क्या कारण है कि सरकार नारदा-शारदा के सबूतों की तरफ इसके भी सबूत मिटा रही. साफ दिखाता है कि वोटबैंक की राजनीति के लिए दीदी किस स्तर पर जा सकती हैं,

2019 के इस चुनाव अभियान में पूरे देश ने अपने इस सेवक को भरपूर समर्थन दिया है. लेकिन पश्चिम बंगाल के लोग विशिष्ट दायित्व निभा रहे हैं.  बीजेपी पर इस विशेष आशीर्वाद के साथ ही बंगाल की जनता दीदी को लोकतंत्र का असली मतलब भी समझाने जा रही है. उनका ये सेवक एक मजबूत सरकार बना सके इसके लिए पश्चिम बंगाल ने ठान लिया है कि वो बीजेपी को 300 सीटें पार कराएगी.

इसे भी पढ़ेंः साध्वी प्रज्ञा ने कहा, नाथूराम गोडसे देशभक्त थे,  बीजेपी ने बयान से किनारा किया, कहा, माफी मांगनी चाहिए

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: