National

पश्चिम बंगाल : हिंसा के खिलाफ भाजपा कार्यकर्ता सड़क पर, लाठीचार्ज, पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े

विज्ञापन

Kolkata : पश्चिम बंगाल में  भाजपा- टीएमसी के बीच रार थम नहीं रही है.  बुधवार को एक और भाजपा कार्यकर्ता का शव मिलने के बाद पश्चिम बंगाल तनाव और बढ़ गया. शव मिलने  और लगातार हिंसा के खिलाफ भाजपा  कार्यकर्ता ममता सरकार के खिलाफ बुधवार को सड़क पर उतर गये. खबर है कि  पुलिस मुख्यालय की तरफ बढ़ कहे  भाजपा कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े.

पुलिस ने पानी की तेज बौछार से भाजपा कार्यकर्ताओं को रोकने की कोशिश की.  बता दें कि लोकसभा चुनाव के बाद से ही पश्चिम बंगाल में टीएमसी और भाजपा  कार्यकर्ता आमने-सामने हैं.  राज्य में  हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है.  बुधवार को तनाव बढ़ने का कारण  मालदा में दो दिन से लापता भाजपा कार्यकर्ता का शव मिलना रहा. भाजपाऔर आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या से नाराज भाजपा-कार्यकर्ताओं का गुस्सा इससे और भड़क गया.

इसे भी पढ़ेंः गुजरात में कल दस्तक देगा Cyclone Vayu, रफ्तार होगी 140-165 किमी प्रति घंटा, स्कूल-कॉलेज बंद

advt

 ममता सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरे भाजपा कार्यकर्ता

गुस्साये भाजपा कार्यकर्ता  कोलकाता में सड़क पर उतरकर ममता सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे. इसके बाद  पुलिस मुख्यालय का घेराव करने के लिए आगे बढ़ रहे भाजपा कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए पुलिस को मशक्कत करनी पड़ी.  बड़ी संख्या में सड़क पर उतरे उग्र भाजपा  कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए पुलिस को पानी की बौझार के साथ ही आंसू गैस के गोले भी दागने पड़े.

इससे पहले मंगलवार को पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले के कांकीनारा में बम धमाके में 2 लोगों की मौत हो गयी,  जबकि चार घायल हो गये.   से पहले एक आरएसएस और एक भाजपा कार्यकर्ता के पेड़ से लटकते शव पाये  जाने से सनसनी फैल गयी थी.  सोमवार को हावड़ा के आमटा स्थित सरपोटा गांव में भाजपा  कार्यकर्ता समातुल दोलुई का शव पेड़ से लटकते हुए मिला था. दोलुई के परिवार और भाजपा नेताओं ने इस घटना के पीछे तृणमूल कांग्रेस का हाथ बताया.

इसे भी पढ़ेंः मोदी कैबिनेट की पहली मीटिंग आज,  तीन तलाक, 100 दिनों के एक्शन प्लान पर चर्चा संभव

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button