न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मौसम चेतावनी: तेजी से बढ़ रहा है ‘तितली तूफान’, ओडिशा-आंध्र में रेड अलर्ट जारी

1,644

New Delhi: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार को एक विशेष बुलेटिन जारी किया है. इसमें कहा गया है कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरा दबाव क्षेत्र तेज होकर चक्रवाती तूफान तितली में बदल गया है. यह ओडिशा-आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्र की ओर बढ़ रहा है. इस तूफान को देखते हुए ओडिशा में रेड अलर्ट जारी किया गया है.

आईएमडी ने बुधवार और गुरुवार को ओडिशा के कई स्थानों पर भारी बारिश का पूर्वानुमान जताते हुए राज्य में रेड अलर्ट भी जारी कर दिया है. मौसम विभाग ने कहा कि बंगाल की खाड़ी पर चक्रवाती तूफान पिछले छह घंटे में आठ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ा.

इसे भी पढ़ें- 1.02 करोड़ से बना गोमिया का चितू नाला चेक डैम, किसान आज भी सिंचाई से वंचित

11 अक्टूबर को पहुंचेगा तूफान

आईएमडी के मुताबिक तितली ओडिशा में गोपालपुर से करीब 560 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में और आंध्र प्रदेश में कलिंगपट्नम से 480 किलोमीटर पूर्व- दक्षिण पूर्व में है. भुवनेश्वर में मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक एचआर विश्वास ने कहा, ‘अगले 24 घंटे में यह तीव्र चक्रवाती तूफान में बदल सकता है और कुछ समय के लिए पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ सकता है. जिसके बाद यह उत्तर पश्चिम की ओर बढ़कर 11 अक्टूबर को सुबह के आसपास गोपालपुर और कलिंगपट्नम के बीच ओडिशा और उससे लगे उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों को पार कर सकता है.’

इसे भी पढ़ें- शौचालय निर्माण के बाद अब जलसहिया कर रही हैं भुगतान का इंतजार

इन स्थानों पर हो सकती है भारी बारिश

एचआर विश्वास ने कहा कि इसके बाद यह उत्तर पूर्व की ओर जा सकता है और तटीय ओडिशा से पश्चिम बंगाल के गंगा क्षेत्र से गुजरते हुए धीरे-धीरे कमजोर हो सकता है. इसके प्रभाव में दक्षिण तटीय ओडिशा के गजपति, गंजाम, पुरी और जगतसिंहपुर जिलों के कुछ स्थानों पर बुधवार से भारी बारिश हो सकती है. इनके अलावा बुधवार और गुरूवार से गंजाम, गजपति, पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, खुर्दा, नयागढ़, कटक, जाजपुर, भद्रक और बालासोर जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है.

आईएमडी ने 11 अक्टूबर से कंधमाल, बौध तथा ढेंकानाल जिले में भी भारी बारिश का पूर्वानुमान व्यक्त किया है. बारिश के साथ 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. ओडिशा सरकार को भी संभावित बाढ़ के हालात के मद्देनजर सतर्क कर दिया गया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: