न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हमारी राम में आस्था है,  राम समय बदलने में समय नहीं लेते… मंदिर वहीं बने   : मोहन भागवत

पीएम मोदी ने चाहे जो भी कहा हो, लेकिन मेरा पक्ष साफ है.  हमारी राम में आस्था है और हम दृढ़ता से इस बात को मानते हैं कि राम मंदिर उस जगह पर ही बनना चाहिए.

15

NewDelhi : पीएम मोदी ने चाहे जो भी कहा हो, लेकिन मेरा पक्ष साफ है.  हमारी राम में आस्था है और हम दृढ़ता से इस बात को मानते हैं कि राम मंदिर उस जगह पर ही बनना चाहिए.  राम मंदिर पर दिये गये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने यह प्रतिक्रिया दी. बता दें कि बुधवार को एक स्कूल में आयोजित कार्यक्रम के दौरान  आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि वे भैय्याजी जोशी के बयान का समर्थन करते हैं. इस क्रम में  आरएसएस प्रमुख ने कहा कि अयोध्या में सिर्फ राम मंदिर बनेगा.  भगवान राम में हमारी आस्था है. राम समय बदलने में समय नहीं लेते. बता दें कि मोहन भागवत ने आगामी लोक सभा चुनाव पर भी अपनी बात रखी. राम मंदिर मुद्दे के साथ ही लोक सभा चुनावों के परिणाम को लेकर अनिश्चितता जाहिर की. साथ ही शैक्षणिक नीतियों पर उन्होंने कहा कि ऐसा सुनने में आया था कि एक नयी नीति बनी हई हैख्, लेकिन अब समय नहीं बचा है.  इसका कार्यान्वयन इस बात पर निर्भर करता है कि भविष्य में चीजें कैसे आकार लेती हैं.

राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाया जाये

बता दें कि राम मंदिर को लेकर पीएम के बयान के बाद आरएसएस के भैय्याजी जोशी का बयान आया था.  जिसमें जोशी ने कहा था कि हम पहले ही मांग रख चुके हैं कि राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाया जाये.  जो सत्ता में हैं उन्होंने भी कहा था कि राम मंदिर बनना चाहिए. बता दें कि विहिप के बयानों से  तो अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह अदालती फैसले का अनंत काल तक इंतजार नहीं कर सकते हैं.  बता दें कि राम मंदिर मुद्दे को लेकर 31 जनवरी को विहिप की धर्मसभा हो रही है.  उसमें खुद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत हिस्सा लेंगे.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: