Bihar

हम बिहार के 20 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने को तैयार : मांझी

Patna : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) सेक्युलर के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने कहा है कि उनकी पार्टी अगले लोकसभा चुनाव में राज्य की 40 लोकसभा सीटों में से 20 पर चुनाव लड़ने के लिए तैयार है. हम के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने बताया कि उनकी पार्टी की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी के समापन के बाद कुछ पत्रकारों के मांझी से इस संबंध में सवाल किया था.

इस पर मांझी ने जवाब दिया था कि उनकी पार्टी अगले लोकसभा चुनाव में राज्य की 40 लोकसभा सीटों में से 20 पर चुनाव लड़ने के लिए तैयार है हालांकि उन्होंने कहा कि मांझी जी ने उसी समय यह भी स्पष्ट कर दिया था कि उनकी पार्टी की तैयारी का मतलब यह नहीं है कि वे उक्त सीटों की मांग करेंगे. दानिश ने आरोप लगाया कि दुर्भाग्यवश मांझी के बयान के केवल एक हिस्से को गलत रूप से सत्ता पक्ष की ओर से पेश किया जा रहा है.

इसे भी पढ़े : पीके जदयू में शामिल हो गये, बक्सर सीट से राजग के प्रत्याशी बनने के कयास

ram janam hospital
Catalyst IAS

मांझी महागठबंधन में “20-20” खेल रहे हैं : भाजपा नेता

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

बिहार में सत्ताधारी जदयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने मांझी के उक्त बयान पर कटाक्ष करते हुए उन पर नीतीश कुमार के प्रति वफादार नहीं रहने का आरोप लगाते हुए कहा कि अब वे अपना चरित्र राजद-कांग्रेस महागठबंधन में दिखा रहे हैं.
भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार सरकार में मंत्री विनोद नारायण झा ने कटाक्ष करते हुए कहा कि राजग छोडने के बाद मांझी महागठबंधन में 20-20 खेल रहे हैं.

इसे भी पढ़े : पटना : नीतीश ने शराबबंदी की समीक्षा के लिए की उच्चस्तरीय बैठक

नीतीश कुमार के विश्वासी थे जीतन राम मांझी

उल्लेखनीय है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी की करारी हार पर उसकी नैतिक जिम्मेवारी लेते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पद से इस्तीफा देते हुए उस समय अपने विश्वासी रहे जीतन राम मांझी को मुख्यमंत्री बना दिया था. पर बाद में मांझी के पार्टी विरोधी बिगुल फूंकने पर उनके खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के दिन ही उन्होंने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था और वर्ष 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव राजग के घटक तौर पर लडा था जिसमें मात्र वे स्वयं एक ही सीट पर विजय हासिल कर पाए थे .
फरवरी 2018 में मांझी राजग का साथ छोड राजद—कांग्रेस वाले महागठबंधन में शामिल हो गए थे.

इसे भी पढ़े : पप्‍पू का लालू के बेटों पर जुबानी हमला, कहा- अनुकंपा पर जी रहे हैं तेजस्‍वी यादव

राजग पहले अपने घर को व्यवस्थित करे : कांग्रेस

इस बीच बिहार विधान परिषद में कांग्रेस सदस्य प्रेम चंद मिश्रा और राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने मांझी के उस बयान के कारण महागठबंधन के भीतर किसी भी तरह के मतभेद से इंकार करते हुए कहा कि हर दल के नेता अपनी पार्टी का उत्साह और मनोबल बढाने के लिए कई तरह की बातें कहते हैं . राजग पहले अपने घर को व्यवस्थित करे.

 

Related Articles

Back to top button