National

प. बंगालः ‘जय श्री राम’ पर सियासत गरम, ममता बनर्जी का आरोप- धर्म और राजनीति को मिला रही BJP

Kolkata: पश्चिम बंगाल में ‘जय श्री राम’ के नारे पर राजनीति जारी है. रविवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि भाजपा बार-बार ‘जय श्री राम’ का इस्तेमाल कर धर्म को राजनीति में मिला रही है.

तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी कहा कि नफरत की विचारधारा के प्रचार-प्रसार का प्रयास किया जा रहा है, जिसका विरोध किया जाना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः धुर्वा एचइसी हॉस्पिटल कैम्पस में युवक का मिला शव, सिर पर लगी है गोली

उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट में कहा, “जय सिया राम, जय रामजी की, राम नाम सत्य है आदि के धार्मिक और सामाजिक निहितार्थ हैं. लेकिन भाजपा धार्मिक नारे जय श्री राम को अपनी पार्टी के नारे के तौर पर गलत तरीके से इस्तेमाल कर धर्म को राजनीति से मिला रही है.”

नारे से एतराज नहीं

उन्होंने कहा कि उन्हें किसी खास नारे के किसी रैली या पार्टी के कार्यक्रम में इस्तेमाल किये जाने पर कोई आपत्ति नहीं है.

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मुझे किसी राजनीतिक दलों की रैलियों और उनके पार्टी के उद्देश्य में कोई खास नारे से कोई दिक्कत नहीं है. हर राजनीतिक दल का अपना नारा है. मेरी पार्टी का ‘जय हिंद, वंदे मातरम’ नारा है. वाम का ‘इंकलाब जिंदाबाद’ नारा है. अन्यों के भी अलग-अलग नारे हैं. हम एक-दूसरे का सम्मान करते हैं’’

बनर्जी ने कहा, “हम दूसरों पर…इस धार्मिक नारे के जबरन प्रवर्तन का सम्मान नहीं करते.”

बनर्जी ने पोस्ट में लिखा, “हिंसा और तोड़फोड़ के जरिये नफरत की विचारधारा को जानबूझ कर बेचने का प्रयास किया जा रहा है, जिसका निश्चित रूप से विरोध किया जाना चाहिए.”

इसे भी पढ़ेंः दर्द ए पारा शिक्षक: भाई के दिए 15 किलो चावल से हो रहा गुजारा, प्रीतम स्कूल के बाद मजदूरी कर चुकाते हैं उधार  

उन्होंने कहा, ‘‘राम मोहन राय से विद्यासागर और अन्य महान समाज सुधारकों तक बंगाल सौहार्द्र, प्रगति और प्रगतिशील विचारधारा का स्थान रहा है. लेकिन अब भाजपा की भ्रम फैलाने की रणनीति बंगाल को नकारात्मक तरीके से निशाना बना रही है.’’ उन्होंने कहा कि यह समय राजनीतिक कार्यकर्ताओं को देश में अशांति फैलाने से रोकने के लिए कदम उठाने का है.

बीजेपी की मौजूदगी से बौखला गयी हैं ममता- बाबुल

वहीं पूरे मसले पर सीएम बनर्जी की प्रतिक्रिया पर आसनसोल के बीजेपी सांसद बाबुल सुप्रियो ने कहा कि बंगाल में बीजेपी की मौजूदगी से ममता दीदी बौखला गयी हैं.

साथ ही कहा कि वह एक अनुभवी राजनीतिज्ञ हैं, लेकिन उनका व्यवहार असामान्य और विचित्र है. उन्हें अपने पद की गरिमा को ध्यान में रखना चाहिए. उन्हें कुछ दिनों के लिए ब्रेक लेना चाहिए.

इस बीच, बनर्जी का जिक्र करते हुए भाजपा नेता मुकुल रॉय ने कहा कि लोकसभा चुनावों के नतीजों के बाद टीएमसी प्रमुख अपना मानसिक संतुलन खो रही हैं.

बता दें कि पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले में बृहस्पतिवार को ममता बनर्जी ने ‘जय श्री राम’ के नारे लगा रहे कुछ लोगों से नाराजगी जताई थी. ऐसी एक घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है.

नारा सुनते ही ममता बनर्जी एक बार फिर अपना आपा खो बैठीं और गाड़ी रुकवाकर सड़क पर उतरकर नारा लगाने वालों की चमड़ी उधेड़कर गिरफ्तार करा देने की बात कही.

उसके बाद ‘जय श्रीराम’ के नारे लगाने को लेकर जगदल थाने की पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया था. सभी पर मुख्यमंत्री का काफिला रोकने, हमले की कोशिश करने समेत विभिन्न आरोपों में मामले दर्ज किए गये.

इसे भी पढ़ेंः गढ़वा: माओवादी समर्थक गिरफ्तार, पुलिस से लूटी गयी एक एके 47 रायफल और गोलियां बरामद

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close