न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

व्‍हाट्सअप ग्रुप से करायी जायेगी बोर्ड परीक्षा की तैयारी, अनुभवी शिक्षक व अधिकारी शेयर करेंगे नोट्स

166

Dumka: बोर्ड की परीक्षाओं में अच्‍छे अंक प्राप्‍त करने के लिए दुमका जिला प्रशासन ने हाईटेक प्‍‍‍‍‍लान तैयार किया है. इसके तहत छात्र-छात्राओं के व्‍हाट्सअप ग्रुप तैयार किये जायेंगे. इन ग्रुप्‍स में अनुभवी शिक्षक और विशेषज्ञ अधिकारी उन्‍हें परीक्षा की तैयारी के गुर बतायेंगे और जरूरी नोट्स शेयर करेंगे. साथ ही वे छात्रों को व्‍हाट्सअप ग्रुप के जरिये सवालों का जवाब भी देंगे. यह बातें इंडोर स्टेडियम दुमका में 2019 के बोर्ड परीक्षा में सम्मिलित होने वाले छात्र एवं छात्राओं के लिए परामर्श व मार्गदर्शन के लिए ‘विजय 2019’ कार्यक्रम के दौरान सामने आई. कार्यक्रम की शुरुआत डीडीसी वरुण रंजन ने द्वीप प्रज्जवलित कर किया.

इसे भी पढ़ें: बेहाल हुआ आरयू का परीक्षा विभाग, परीक्षा नियंत्रक बदलने के बाद भी कम नहीं हुई छात्रों की समस्या

मौके पर डीडीसी वरुण रंजन ने कहा कि 2019 के बोर्ड परीक्षा में सम्मिलित होने वाले छात्र-छात्राओं के लिए आने वाले 6 महीने महत्वपूर्ण हैं. सभी को पूरी ईमानदारी के साथ बोर्ड परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि आप सभी छात्र-छात्रायें इस उम्मीद के साथ तैयारी करें कि आपकी प्रतियोगिता जिला एवं राज्य ही नहीं बल्कि, भारत वर्ष में उन सभी छात्र-छात्राओं से है. जो इस साल बोर्ड की परीक्षा में सम्मिलित हो रहे है. विजय पथ सभी को तय करना है. जिला प्रशासन का कर्तव्य है आप सभी को सही राह दिखायें. उन्होंने कहा कि यदि टॉपर बनना है, तो हर विषय की तैयारी करना बहुत महत्वपूर्ण है. सच्ची पूजा, आपकी पढ़ाई है. उन्होंने कहा कि बोर्ड के परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर ही आगे भी बेहतर कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ने सभी विषयों के लिए अनुभवी शिक्षकों का पैनल तैयार किया है. जो छात्र-छात्राओं के लिए नोटस तैयार करेंगे, बोर्ड परीक्षा में सम्मिलित होने वाले छात्र-छात्राओं को इससे मदद मिलेगी.

इसे भी पढ़ें: डॉ वीके प्रजापति की नियुक्ति की जांच के लिए रिम्स गंभीर नहीं, ज्वाइनिंग पर कई बार खड़े हो चुके हैं सवाल

परीक्षा की तैयारी के लिए जिला प्रशासन बना रहा व्‍हाट्सअप ग्रुप

इस अवसर पर प्रशिक्षु आईएएस शशि प्रकाश ने सफलता प्राप्त करने के लिए उच्च शिक्षा को प्राप्त करना जीवन में महत्वपूर्ण बताया. उन्होंने कहा कि शिक्षा के स्तर में दुमका को ओर भी ऊंचा उठाने की आवश्यकता है. यह तभी संभव है जब आप सभी छात्र-छात्राएं अच्छे से तैयारी करके अच्छा रिजल्ट प्राप्त करेंगे. उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन एवं शिक्षा विभाग के सहयोग से एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया जा रहा है. जिसमें बोर्ड में सम्मिलित होने वाले छात्र-छात्राएं, अनुभवी शिक्षकों और जिला प्रशासन के अधिकारियों को ग्रुप में जोड़ा जायेगा. इस व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से अनुभवी शिक्षकों के द्वारा बनाये गये नोट्स और मॉडल पेपर को आप सभी के मोबाईल में भेजा जायेगा. जिससे परीक्षा की तैयारी में मदद मिलेगा और बेहतर रिजल्ट हो सकेगा. उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि 2019 बोर्ड परीक्षा में यह उपयोगी साबित होगा.

इसे भी पढ़ें: वित्‍तीय संकट में आयुष्‍मान भारत योजना, 15 दिनों में खत्‍म हो गये 2000 करोड़ रुपये

आरडीडी आरकेपी सिंह ने इस तरह के कार्यक्रम के आयोजन के लिए जिला प्रशासन का आभार प्रकट किया. उन्होंने कहा कि यदि इस प्रकार के प्रयोग से दुमका के छात्र-छात्राओं को सफलता मिलती है, तो यह पूरे राज्य के लिए मॉडल साबित होगा. उन्होंने कहा कि जो नये टेक्नोलॉजी आपके लिए लाया गया है. इस टेक्नोलॉजी से आपको ज्ञान अर्जित करने में आसानी होगी. उन्होंने कहा कि पूरे विश्वास और पूरी मेहनत के साथ सभी छात्र-छात्राएं तैयारी करेंगे और अच्छा रिजल्ट प्राप्त कर अपने जिला और राज्य का नाम रौशन करेंगे. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डीईओ पूनम कुमारी ने कहा कि 2019 के बोर्ड परीक्षा में सम्मिलित होने वाले छात्र-छात्रायें आप सभी अच्छे से तैयारी करने को प्रेरित की. कार्यक्रम के दौरान पिछले वर्ष के टॉपर छात्र-छात्राये गुंजन कुमार पाल, रिया कुमारी एवं सीता कुमारी अपने-अपने अनुभव को साझा किया. जिला प्रशासन के द्वारा इन छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें
स्वंतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता का संकट लगातार गहराता जा रहा है. भारत के लोकतंत्र के लिए यह एक गंभीर और खतरनाक स्थिति है.इस हालात ने पत्रकारों और पाठकों के महत्व को लगातार कम किया है और कारपोरेट तथा सत्ता संस्थानों के हितों को ज्यादा मजबूत बना दिया है. मीडिया संथानों पर या तो मालिकों, किसी पार्टी या नेता या विज्ञापनदाताओं का वर्चस्व हो गया है. इस दौर में जनसरोकार के सवाल ओझल हो गए हैं और प्रायोजित या पेड या फेक न्यूज का असर गहरा गया है. कारपोरेट, विज्ञानपदाताओं और सरकारों पर बढ़ती निर्भरता के कारण मीडिया की स्वायत्त निर्णय लेने की स्वतंत्रता खत्म सी हो गयी है.न्यूजविंग इस चुनौतीपूर्ण दौर में सरोकार की पत्रकारिता पूरी स्वायत्तता के साथ कर रहा है. लेकिन इसके लिए जरूरी है कि इसमें आप सब का सक्रिय सहभाग और सहयोग हो ताकि बाजार की ताकतों के दबाव का मुकाबला किया जाए और पत्रकारिता के मूल्यों की रक्षा करते हुए जनहित के सवालों पर किसी तरह का समझौता नहीं किया जाए. हमने पिछले डेढ़ साल में बिना दबाव में आए पत्रकारिता के मूल्यों को जीवित रखा है. इसे मजबूत करने के लिए हमने तय किया है कि विज्ञापनों पर हमारी निभर्रता किसी भी हालत में 20 प्रतिशत से ज्यादा नहीं हो. इस अभियान को मजबूत करने के लिए हमें आपसे आर्थिक सहयोग की जरूरत होगी. हमें पूरा भरोसा है कि पत्रकारिता के इस प्रयोग में आप हमें खुल कर मदद करेंगे. हमें न्यूयनतम 10 रुपए और अधिकतम 5000 रुपए से आप सहयोग दें. हमारा वादा है कि हम आपके विश्वास पर खरा साबित होंगे और दबावों के इस दौर में पत्रकारिता के जनहितस्वर को बुलंद रखेंगे.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: