न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Hazaribagh में पानी सप्लाई बंद, #DC ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा- विभाग मेरे नियंत्रण में नहीं है

करीब एक माह से खराब है ट्रीटमेंट प्लांट, गंदे पानी की सप्लाई से लोग परेशान

533

Ranchi : हजारीबाग शहर में इन दिनों लोग गंदा पानी पीने को मजबूर हैं. लोगों का कहना है कि उनके घरों में गंदे पानी की सप्लाई हो रही है.

दरअसल ट्रीटमेंट प्लांट के खराब हो जाने के कारण ऐसी स्थिति पैदा हुई है. वहीं इस समस्या के लेकर एक प्रेस कांफ्रेस में जब हजारीबाग डीसी से पूछा गया, तो उनका जवाब था कि पानी सप्लाई का विभाग मेरे नियंत्रण में नहीं है.

Sport House

इसे भी पढ़ें – आम्रपाली, मगध कोल परियोजना में फर्जी पेपर के जरिए कोयला चोरी जारी, CCL कर्मी की मिलीभगत से खेल जारी

छड़वा डैम में बना ट्रीटमेंट प्लांट हुआ खराब

हजारीबाग के लोगों को यहां स्थित छड़वा नदी पर बनाये गये छड़वा डैम से पानी की सप्लाई की जाती है. इसके लिए डैम के निकट ही एक ट्रीटमेंट प्लांट है.

Mayfair 2-1-2020

डैम के पानी को पहले इस प्लांट में फिल्टर किया जाता है फिर सप्लाई की जाती है. लेकिन पिछले एक माह से प्लांट की मशीन में खराबी आ गयी है.

लोगों का कहना है कि डैम से बिना फिल्टर किये हुए ही पानी की सप्लाई की जा रही है. लोगों को सप्लाई करने वाले पानी में फिटकिरी, चूना, क्लोरिन मिलाया जा रहा है. ऐसे में इस पानी के इस्तेमाल से उन्हें कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं.

विकल्प नहीं होने के कारण गंदा पानी पीने को विवश

हजारीबाग के व्यक्ति ने न्यूज विंग को फोन पर बताया कि ऐसा गंदा पानी से बीमारी की आशंका काफी बढ़ गयी है. यह हालात तब है जब विभाग के पास करोड़ों रुपये का वाटर ट्रीटमेंट प्लांट मौजूद है.

इसे भी पढ़ें – #ParaTeachers ने भाजपा कार्यालय घेरा, बोले-नियमावली नहीं तो इस बार वोट भी नहीं

बावजूद विभाग क्षेत्र की जनता को गंदा पानी पिला रहा है. लोग मजबूरी में गंदा पानी पीने को मजबूर हैं, क्योंकि उनके पास इस पानी को छोड़ कर दूसरा कोई विकल्प ही नहीं है.

उन्होंने कहा कि इसकी जानकारी जिले के डीसी डॉ भुवनेश प्रताप सिंह को भी दी गयी है.

डीसी से मांगा गया पक्ष, नहीं मिल सका जवाब

बताया जा रहा है कि इस समस्या को लेकर जब हजारीबाग डीसी से पत्रकारों ने सवाल किया, तो उनका जवाब था कि विभाग उनके नियंत्रण में नहीं है.

इस बात को लेकर न्यूज विंग ने डीसी का पक्ष जानना चाहा. इसके लिए उन्हें मैसेज भी किया गया, लेकिन खबर लिखे जाने तक डीसी का पक्ष नहीं मिल सका था.

इसे भी पढ़ें – #Dumka : CM, मंत्री लुईस मरांडी, सांसद सुनील सोरेन से गुहार के बाद भी जोरिया में नहीं बना पुल, अब वोट बहिष्कार

SP Deoghar

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like