JharkhandRanchi

जल जीवन मिशन को मिलेगी रफ्तार, नयी तकनीक के उपयोग और बिजली बचत को मिलेगा बढ़ावा

Ranchi : राज्यभर में जल जीवन मिशन के मिशन को तेज करने के लिए और भी विशेष पहल की जायेगी. इसमें नयी तकनीक के प्रयोग को बढ़ावा दिया जायेगा. जल जीवन मिशन पर कांके स्थित विश्वा में गुरुवार को राज्य स्तरीय टेक्नो शो पर वर्कशॉप कार्यक्रम में इस पर विशेष चर्चा हुई.

पेयजल एवं स्वच्छता विभाग, झारखंड द्वारा आय़ोजित इस वर्कशॉप में विभागीय सचिव प्रशांत कुमार ने कहा कि जल जीवन मिशन को सफल बनाने में तकनीक का अधिक से अधिक प्रयोग किया जाना लाभकारी होगा. गांव गांव में हर घर को वाटर कनेक्शन देने, जल स्रोत की लंबे समय तक निरंतरता को बनाये रखने में यह महत्वपूर्ण है.

उन्होंने कहा कि देश भर में कई ऐसी बड़ी कंपनियां हैं जिनसे तकनीकी जानकारी ली जा सकती है. इन जानकारियों का उपयोग जल जीवन मिशन के लिए चलायी जा रही योजनाओं के रख-रखाव के लिए तरीके से योजनाएं बनायी जा सकेंगी.

advt

कार्यक्रम में अभियंता प्रमुख श्वेताभ कुमार, चीफ इंजीनियर उमेश प्रसाद, संजय झा, विश्वा निदेशक के साथ-साथ जल संसाधन विभाग के इंजीनियर और यूनिसेफ के कुमार प्रेमचंद भी उपस्थित थे. टेक्नो शो में देशभर की 17 कंपनियों ने अपने स्टॉल भी लगा रखे थे.

इसे भी पढ़ें : कैबिनेट का फैसलाः मनरेगा मजदूरी 194 से 225 रुपये की गयी

adv

नये जमाने में नयी तकनीक का प्रयोग जरूरी

विश्वा के निदेशक अजीत कुमार सिंह ने कहा कि बदलते समय के साथ नयी तकनीक भी मार्केट में आती रहती है. इससे अपडेट रहना और इसका लाभ उठाना सफलता पाने को जरूरी भी है.

टेक्नो शो के जरिये हम सबों को नयी तकनीक और मशीनरी के संबंध में जानकारी मिलेगी. इसका लाभ जलापूर्ति योजनाओं को सभी लोगों तक पहुंचाने में उठाया जा सकेगा.

सही प्रोडक्ट का चयन, पाइप, मोटर पंप इत्यादि की जानकारी मिशन की सफलता में काम आय़ेगी. वर्कशॉप के दौरान पेयजल एवं जल संसाधन विभाग की ओर से जल जीवन मिशन के लिए किये जा रहे प्रयासों की जानकारी दी गयी. यह भी बताया गया कि वे अपने यहां किस तरह से अभी नयी तकनीक के प्रयोग को प्रोत्साहित कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : एनआइए ने टीपीसी के जोनल कमांडर विकास गंझू के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: