न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

देखें वीडियोः कैसे अधिवक्ता रामप्रवेश सिंह को शूटर ने मारी गोली

1,891

Ranchi: कांके थाना क्षेत्र के कांके रोड स्थित सर्वोदय नगर के रहनेवाले सिविल कोर्ट के अधिवक्ता राम प्रवेश सिंह की हत्या का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है.

देखें वीडियो-

Aqua Spa Salon 5/02/2020

सीसीटीवी फुटेज में साफ दिख रहा है कि कैसे अधिवक्ता रामप्रवेश सिंह को शूटर ने गोली मारी. बता दें कि सर्वोदय नगर के रहनेवाले वकील रामप्रवेश सिंह की सोमवार की शाम उनके घर के सामने ही गोली मार कर हत्या कर दी गयी थी.

इसे भी पढ़ें – सीआरपीएफ को है व्यवस्था को लेकर शिकायत, पुलिस कहती नहीं है कोई परेशानी, जानिए क्या है ग्राउंड रिपोर्ट

गोली मार कर फरार हो गया शूटर

सर्वोदय नगर के रहनेवाले अधिवक्ता रामप्रवेश सिंह हर दिन की तरह अपनी कार को घर के सामने लगा कर घर के अंदर जा रहे थे. इसी दौरान एक युवक हाथ में कट्टा छिपाये हुए आता है और उन्हें गोली मार कर फरार हो जाता है.

सीसीटीवी में साफ नजर आ रहा है कि जैसे ही राम प्रवेश सिंह अपनी कार से उतर कर अपनी गली में घूम रहे एक अनजान शख्स को देखते हैं. वैसे ही वह शख्स उनके नजदीक आ जाता है और इससे पहले की रामप्रवेश अनजान शख्स से कुछ पूछ पाते वह कट्टा उनके सिर पर सटा कर उन्हें गोली मार देता है और वह वहीं जमीन पर गिर जाते हैं. आनन-फानन में उन्हें रिम्स में भर्ती कराया गया. गोली लगने से उनकी मौत हो गयी.

इसे भी पढ़ें – CitizenshipAmendmentBill: गुवाहाटी बंद के दौरान बाजार में लगायी आग, प्रदर्शन, पीएम और अमित शाह के पुतले फूंके

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

घटना को अंजाम देने में दो अपराधी थे शामिल

रामप्रवेश सिंह की हत्या के बाद सर्वोदय नगर स्थित उनके घर के आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगालने के दौरान पुलिस को बाइक पर सवार एक और अपराधी नजर आया है. वह गोली मारनेवाले शख्स का साथी है जो उसके भाग कर आने का इंतजार करता हुआ नजर आता है. जैसे ही रामप्रवेश को गोली मार कर अपराधी भागता है उसका साथी उसे बाइक में बिठा कर फरार हो जाता है. मृतक के बेटे अभिषेक सिंह ने बताया कि गोलियों की आवाज सुन कर वह घर से निकला, पड़ोस के लोग भी निकले और उसी कार में उन्हें लेकर सीधे रिम्स पहुंचे.

जमीन विवाद हत्या की वजह

अधिवक्ता रामप्रवेश सिंह की हत्या के बाद पत्नी रीता देवी और बेटे अभिषेक ने कहा कि सर्वोदय नगर की ही एक जमीन पर कब्जा के प्रयास को लेकर रामप्रवेश सिंह निशाने पर थे. डेढ़ महीने पहले सर्वोदय नगर की 81 डिसमिल जमीन पर कब्जा करने रमेश गाड़ी, उसका साला छोटू लकड़ा 24 से ज्यादा गुर्गों के साथ पहुंचा था. लाठी-डंडे, हॉकी स्टिक और हथियारों से लैस होकर मारपीट भी की थी. इसमें रामप्रवेश और उनके साथ मौजूद लोगों को भी चोट आयी थी. इस पर रामप्रवेश के परिजनों ने दावे के साथ कहा है कि इस हत्या में रमेश और छोटू का ही हाथ है. इन आरोपों को देखते हुए पुलिस ने तत्काल दोनों को हिरासत में ले लिया है. दोनों से पूछताछ की जा रही है. हालांकि दोनों ने अब तक संलिप्तता नहीं स्वीकारी है. पुलिस संबंधित शूटर की तलाश में जुट गयी है.

इसे भी पढ़ें – #JharkhandElection : आठ जिलों की 17 विधानसभा सीटों पर वोटिंग 12 को, 56 लाख मतदाता चुनेंगे अपने विधायक

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like