World

वाशिंगटन :  राष्ट्रपति जो बाइडेन एक्शन में, कैबिनेट के प्रमुख नाम तय किये,  ब्लिंकन विदेश मंत्री और एलेजांद्रो गृहमंत्री होंगे

एंटनी ब्लिंकन का मानना है कि भारत और अमेरीका तेजी से मुखर होते चीन के रूप में एक समान चुनौती का सामना करते हैं.

Washington :  अमेरीका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपनी कैबिनेट के प्रमुख नाम तय कर दिये है. ओबामा और बाइडेन के कार्यकाल में डिप्टी सेक्रेटरी की भूमिका निभा चुके एंटनी ब्लिंकन विदेश मंत्री बनाये गये हैं. खबर है कि  एलेजांद्रो गृहमंत्री होंगे.

विदेश मंत्री बने एंटनी ब्लिंकन का मानना है कि भारत और अमेरीका तेजी से मुखर होते चीन के रूप में एक समान चुनौती का सामना करते हैं. चीन के साथ मजबूत स्थिति को बनाये रखकर वार्ता करने के लिए नयी दिल्ली को अमेरीका का एक अहम साझेदार होना चाहिए.

इसे भी पढ़ें : ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट : भयभीत न हों… करेंसी  नोटों के जरिए कोरोना वायरस फैलने का खतरा बेहद कम…

ट्रंप ने अमेरीकी मूल्यों को छोड़ा

ब्लिंकन ने आरोप लगाया कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरीकी गठबंधन को कमजोर कर चीन की महत्वपूर्ण रणनीतिक लक्ष्यों को आगे बढ़ाने में मदद की और दुनिया में शून्यता छोड़ी ताकि चीन उसे भर सके.  ब्लिंकन ने यह भी आरोप लगाया कि ट्रंप ने अमेरीकी मूल्यों को छोड़ा और हांगकांग में लोकतंत्र को कुचलने के लिए हरी झंडी दिखाई.

ब्लिंकन ने जो बाइडन के प्रशासन में अमरीका-भारत के रिश्ते और भारतीय अमेरीकी विषय पर आयोजित एक डिजिटल पैनल चर्चा में भारतीय मूल के लोगों से कहा कि हमारी एक समान चुनौती तेजी से मुखर होते चीन से निपटने की है. इसमें वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत के प्रति उसकी आक्रामकता शामिल है.

इसे भी पढ़ें : अलर्ट जारी…आज शाम आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु के तटीय क्षेत्रों से 110 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से टकरायेगा चक्रवाती तूफान निवार…

 एलेजांद्रो मयोरकास को सेक्रेटरी ऑफ होमलैंड सिक्यॉरिटी का पदभार

एलेजांद्रो ओबामा-बाइडेन कार्यकाल में होमलैंड सिक्यॉरिटी के डिप्टी सेक्रेटरी का पद संभाल चुके हैं. वे लातिनो समुदाय (स्पेनिश भाषी आव्रजक समुदाय जो विभिन्न लैटिन अमरीकी देशों से आकर अमरीका में बसे हैं) से आते हैं. राष्ट्रपति ट्रंप के कार्यकाल में इस समुदाय को खास निशाना बनाया गया था.

बाइडेन कार्यकाल के लिए ऐवरिल हेन्स को डायरेक्टर ऑफ नेशनल इंटेलिंजेंस नियुक्त किया गया है. ऐवरिल तकरीबन एक दशक से ज्यादा समय से बाइडेन के लिए विभिन्न पदों पर काम कर चुकी हैं. हेन्स इस पद के लिए नामित होने वाली पहली महिला होंगी. बाइडेन ने संयुक्त राष्ट्र के लिए राजदूत के तौर पर लिंडा थॉमस ग्रीनफील्ड के नाम का चुनाव किया है, जेक सुल्लिवन को नेशनल सिक्यॉरिटी एडवाइजर नियुक्त किया है.

खबर है कि  बाइडेन ने पूर्व विदेश मंत्री जॉन केरी को जलवायु के लिए राष्ट्रपति के विशेष दूत के पद के लिए नामित किया है.  बाइडन ने जलवायु प्रभारी को राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (एनएससी) में स्थान देने का फैसला किया है. पहले ये दर्जा उसे नहीं हासिल था.

इसे भी पढ़ें : कांग्रेस  के दिग्गज नेता अहमद पटेल नहीं रहे, पीएम मोदी ने शोक व्यक्त किया…

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: