न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

वार्ड अध्यक्षों से संवाद के लिए नियुक्त हो वार्ड प्रभारी, पार्टी को मिलेगी मजबूती : सुबोधकांत

22

Ranchi : बूथ स्तर पर कांग्रेस की मजबूती की बात करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री व कांग्रेसी नेता सुबोधकांत सहाय ने कहा है कि पार्टी संगठन की मजबूती के लिए आवश्यक है कि वार्ड अध्यक्षों से संवाद स्थापित करने हेतु वार्ड प्रभारियों की नियुक्ति की जाए. ऐसा करने से बूथ स्तर एवं मोहल्ला स्तर तक जनसंपर्क कार्यों को करने में सहूलियत होगी. सुबोधकांत सहाय ने उक्त बातें रांची महानगर कांग्रेस कमेटी की तरफ से लापूंग स्थित सरसा ग्राम में आयोजित एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में कही. इस दौरान उन्होंने भाजपा सरकार की जनविरोधियों नीतियों के खिलाफ भी कार्यकर्ताओं के समक्ष अपनी बातें रखी.

इसे भी पढ़ें- करार की मियाद पूरी, 26,000 करोड़ के प्रोजेक्ट में दो साल की देरी, 2019 में प्लांट से शुरू होना था…

वोट बैंक की राजनीति कर रही है भाजपा

सुबोधकांत सहाय ने कहा कि भाजपा सामाजिक समरसता बिगाड़ कर वोट बैंक की राजनीति कर रही है. जब से भाजपा केंद्र व राज्य में सत्ता में आयी है, तब से देश में भ्रष्टाचार, अपराध, जातिवाद, बेरोजगारी, मॉब लिचिंग जैसी घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है. राजधानी में अपराधियों का तांडव बढ़ा है, विधि व्यवस्था चरमरा गयी है, राज्य में अराजक स्थिति बनी हुई है. दूसरी तरफ सरकार कह रही है कि राज्य का विकास हो रहा है. इसके लिए जनता के बीच कांगजी आंकड़े पेश कर जनता को दिग्भ्रमित किया जा रहा है. कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि समय आ गया है कि सत्तासीन भाजपा को जड़ से उखाड़ फेंका जाए.

इसे भी पढ़ें- माओवादियों ने पुलिस पर हमले की बनायी नयी रणनीति, कोड नेम है ‘सिविक एक्शन’ !

भाजपा से है सीधी लड़ाई, तैयार रहें कार्यकर्ता

silk_park

पार्टी की मजूबती की बात करते हुए कहा कि बूथ व मोहल्ला स्तर तक जनसंपर्क कार्य में तेजी लाने की जरूरत है. भाजपा की झूठ को हर घर के दरवाजे तक पहुंचाने के लिए पार्टी हित में यह कार्य करना जरूरी है. सहाय ने कहा कि आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं की सीधी लड़ाई भाजपा से है, झूठे प्रधानमंत्री से है. आज झारखंड राज्य में बेलगाम भाजपा सरकार चल रही है.

राज्य का निर्माण गांव एवं ग्रामवासियों के विकास हेतु किया गया था. परंतु आज गांवों में रहने वाले रसोइया, संयोजिका, सहिया, आंगनबाड़ी सेविकाओं, पारा शिक्षकों के उपर सरकार लाठी, गोली चलवा रही है. रघुवर राज में शराब बेचने वालों को 25 हजार और पारा शिक्षकों को 6 हजार वेतन दिया जा रहा है. ऐसी सरकार से यह उम्मीद नहीं की जा सकती है, कि वह विकास के कार्यों को अंजाम दें. ऐसी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए कार्यकर्ताओं को तैयार रहने की आवश्यकता है.

इसे भी पढ़ें- पारा शिक्षकों के समर्थन में उतरी आजसू, सुदेश बोले- पारा टीचर लाठी नहीं, सम्मान के हकदार

भाजपा के झूठ को रोकने के लिए आयोजित है शिविर : संजय पांडे

शिविर में उपस्थित प्रखंड अध्यक्ष वार्ड अध्यक्षों और बूथ स्तर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए महानगर अध्यक्ष संजय पांडे ने कहा कि कार्यकर्ता किसी भी संगठन के रीढ़ होते हैं. आज की इस आयोजन के पीछे मूल कारण है कि भाजपा की तरफ से देश की जनता को विभिन्न मुद्दों पर बहकाया जा रहा है. दुष्प्रचार किया जा रहा है, अपनी झूठी उपलब्धियां गिनाई जा रही हैं. भाजपा के इसी दुष्प्रचार और कुचक्र को रोकने के लिए विभिन्न मुद्दों पर मंथन कर उसकी सच्चाई से कार्यकर्ताओं को अवगत कराना है. ताकि आम जनता के बीच कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा और नरेंद्र मोदी के झूठे चेहरे को सच्चाई के साथ बेनकाब किया जा सके.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: