NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सफाई नहीं होने से फैल रही है महामारी, निगम नहीं रांची एमएसडब्ल्यू है जिम्मेदार: पार्षद

चिकनगुनिया प्रभावित इलाकों के लिए चिकित्सा दल गठित, कई पार्षदों ने अपने वार्डों में चलाया सफाई अभियान

343

Ranchi: रांची नगर निगम क्षेत्र में फैले चिकनगुनिया और डेंगू के लिए शहर के कई पार्षदों ने रांची एमएसडब्ल्यूको जिम्मेदार बताया है. इन पार्षदों का आरोप है कि सफाई नहीं होने के कारण ही शहर के मुख्य इलाकों में चिकनगुनिया जैसा महामारी इन दिनों फैल रही है. इसके लिए रांची नगर निगम नहीं बल्कि कई वार्डों मे सफाई का जिम्मा संभाल रही रांची एमएसडब्ल्यू जिम्मेवार है. कंपनी के कारण ही आज शहर के कई वार्डों में सफाई कार्य प्रभावित हुआ है.

इसे भी पढ़ें-ईवीएम को आधार से लिंक करने की सोच रहा है चुनाव आयोग, विपक्ष ने कहा पहले UAID डाटा सुरक्षित करे सरकार

स्वास्थ्य विभाग ने चिकित्सा दल का किया गठन

मालूम हो कि राजधानी के हिंदपीढ़ी सहित कई इलाकों में चिकनगुनिया और डेंगू के लक्षण पाये गये हैं. दूसरी ओर इस महामारी को लेकर अब स्वास्थ्य विभाग भी तेजी से काम करने लगा है. विभाग ने इन क्षेत्रों में चिकित्सा जांच हेतु एक चिकित्सा दल का गठन किया गया है. दल के सदस्यों को गुरुवार सुबह से प्रभावित इलाकों के चिन्हित स्थलों पर दवा के साथ उपस्थित रहने का निर्देश भी दिया गया.

इसे भी पढ़ें-नेतरहाट एवं इंदिरा गांधी आवासीय विद्यालय होगा सीबीएसई, राज्य के हर पंचायत में प्लस टू स्कूल खोलेगी सरकार

बुधवार को 69 मरीजों की हुई शारीरिक जांच

सदर अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को चिकनगुनिया और डेंगू से प्रभावित कुल 69 मरीजों की शारीरिक जांच की गयी. इनमें से कुल 41 मरीजों को चिकनगुनिया और 3 को डेंगू होने की पुष्टि हुई. वहीं कुल 3 ऐसे मरीज पाये गये कि जिन्हे चिकनगुनिया और डेंगू दोनों की पुष्टि हुई है.

इसे भी पढ़ें-छात्रावास में रह रहे छात्रों को मिला नोटिस, बंधु तिर्की ने कहा- आदिवासी विरोधी है सरकार

अगले आदेश तक चिकित्सा दल करेगा कार्य

शल्य चिकित्सा सह मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी के मुताबिक इन दिनों शहर के कई इलाकों में चिकनगुनिया और डेंगू के लक्षण पाये गये हैं. इसलिए इन क्षेत्रों में चिकित्सा व्यवस्था एवं जांच हेतु एक चिकित्सा दल का गठन किया है. दल के सदस्य गुरुवार से अगले आदेश तक कार्य करेंगे. साथ ही दल को निर्देश दिया गया है कि सभी सदस्य सुबह 8.30 बजे से शाम 4 बजे तक चिन्हित स्थल पर आवश्यक दवा आदि के साथ ससमय उपस्थित रहेंगे. इस दौरान दल के गतिविधियों को लेकर कार्यक्रम प्रबंधक मॉनिटरिंग करेंगे.

इसे भी पढ़ें-मानव तस्करी के शिकार 1000 पीड़ितों ने लिखा पीएम को पत्र, मानव तस्करी निरोधक विधेयक पारित कराने की मांग

निम्न स्थानों पर रहेंगे निम्न चिकित्सक

वार्ड नंबर 23 – हिंदपीढ़ी इलाके के लाह फैक्ट्री, अबुबकर मस्जिद, सरफराज चौक में चिकित्सा पदाधिकारी ज्योत्सना सिन्हा, फार्मा रिंकी तिग्गा, जीएनएम प्रेमा इंदवार, एलटी चंमा कुमारी
वार्ड नंबर 16 – आजाद बस्ती, गुलशन हॉल, कर्बला चौक में चिकित्सा पदाधिकारी रेणू कंठ, फार्मा ज्योति कुमारी, जीएनएम थेरेसा, एलटी चंचला कुमारी.

madhuranjan_add

इसे भी पढ़ें-यशवंत,शौरी व प्रशांत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, राफेल डील आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला

इसके अलावा हिंदपीढ़ी इलाके में स्थित हिंदी स्कूल, लेक रोड में चिकित्सा पदाधिकारी अन्नू बॉवी, फार्मा श्रीकांत, एलटी अहमद मुस्तफा, हिंदपीढ़ी के ही झारखंड तंजीम नाई टोला में चिकित्सा पदाधिकारी अवनी कुमार, फार्मा स्वेता लकड़ा, एलटी अनुप कुमार, जीएनएम शोभा तिर्की को चिकित्सा दल में नियुक्त किया गया है.

इसे भी पढ़ें-चिकनगुनिया : चार दिन बाद हरकत में आयी सरकार, मंत्री ने अधिकारियों को लगायी फटकार

कई पार्षदों ने की वार्डों में सफाई

इससे पहले बुधवार को चिकनगुनिया और डेंगू प्रभावित कई इलाकों में पार्षदों ने विशेष सफाई अभियान चलाया. वार्ड नंबर 21 के पार्षद मो. एहतेशाम ने अपने वार्ड में तथा वार्ड नंबर 18 की पार्षद आशा गुप्ता ने लोहरा कोचा इलाके में सभी नालियों की सफाई की. साथ ही नालियों में ब्लीचिंग पाउडर डाला.

नंबर 21 में पार्षद द्वारा चलाया गया सफाई अभियान
नंबर 21 में पार्षद द्वारा चलाया गया सफाई अभियान

इसे भी पढ़ें-टीकाकरण में सहयोग नहीं करने पर शिक्षक का वेतन रोकने का आदेश

सफाई व्यवस्था को लेकर रांची एमएसडब्ल्यू पर उठा सवाल

चिकनगुनिया और डेंगू की फैलती महामारी को लेकर कई पार्षदों ने रांची एमएसडब्ल्यू पर भी सवाल खड़ा किया. वार्ड नंबर 26 के अरूण कुमार झा और वार्ड नंबर 20 के पार्षद सुनील यादव का कहना है कि शहर में गंदगी के कारण जिस तरह से चिकनगुनिया और डेंगू फैल रही है, उसका कारण रांची नगर निगम नहीं बल्कि रांची एमएसडब्ल्यू है. अगर तुरंत ही इस कंपनी को नहीं हटाया गया कि आगे भविष्य में काफी कुछ शहर को झेलना पड़ेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: