न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लॉकडाउन में घर वापसी के लिए 400 किमी पैदल चलकर 15 लोग तीन दिनों में सुंदरगढ़ से सिमडेगा पहुंचे

1,461

Ranchi :  22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगने के बाद से सुंदरगढ़, ओड़िसा में काम करने वाले 15 श्रमिक पलामू स्थित अपने गांव पैदल चलकर पहुंचे. जब कोई उम्मीद नजर नहीं आई तो पैदल ही अपनी गठरी उठाकर निकल गये.

तीन दिनों में 150 किमी से अधिक का सफ़र तय करके आज वे कोलेबिरा, सिमडेगा पहुंचे. जिला प्रशासन की पहल पर उनके लिए आज भोजन और घर वापसी के लिए गाड़ी की व्यवस्था की गयी.

इसे भी पढ़ेंः #FightAgainstCorona : मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने निजी खाते से सीएम राहत कोष में डाला एक लाख, JMM के मनोज पांडेय ने दिये 51 हजार, आप भी करें योगदान

कोलेबिरा स्वास्थ्य कर्मियों ने की सबों के स्वास्थ्य की जांच

कोलेबिरा पहुंचे कुल 15 श्रमिकों की जांच बीडीओ, कोलेबिरा अखिलेश कुमार ने हेल्थ वर्कर्स से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में करवाई. जांच के उपरांत उनकी हथेलियों के उपरी सतह पर मुहर भी लगा दी गयी. साथ ही इन्हें खुले मैदान में भोजन भी कराया गया.

बीडीओ कार्यालय के माध्यम से जिला प्रशासन, सिमडेगा को भी इस सम्बन्ध में सूचना दे दी गयी. उपायुक्त मृत्युंजय वर्णवाल की सहमति से सभी लोगों के लिए उनके घर डाल्टनगंज भेजने की व्यवस्था की गयी. सुंदरगढ़ से डाल्टनगंज के बीच 400 किमी से अधिक की दूरी तय करने को निकले सभी श्रमिकों के लिए प्रशासन की पहल राहत लेकर आई.

Whmart 3/3 – 2/4

इसे भी पढ़ेंः #ChineseVirus19 : महाभारत की बात तो ठीक, पर IMA कह रहा कि लड़ने के लिए सुरक्षा किट है ही नहीं, कैसे लड़ेंगे कोरोना से

सुंदरगढ़ में चालक हैं सभी 15 लोग, सिमडेगा प्रशासन का जताया आभार

प्रखंड विकास पदाधिकारी अखिलेश कुमार, अंचलाधिकारी प्रताप मिंज और थाना प्रभारी रामेश्वर भारत की पहल की सराहना करते हुए सभी लोगों ने बताया कि वे सुंदरगढ़ में गाड़ी चलाने का काम करते हैं. कोरोना के चलते वहां सरे कारखाने बंद कर दिए गए. इसके बाद 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लग गया. कोई साधन नहीं मिलने पर सभी एक साथ पैदल ही निकल पड़े. सिमडेगा में स्थानीय प्रशासन ने उनके लिए सराहनीय प्रयास किया है.

इस उनलोगों के 400 किलोमीटर की दूरी को कम करने में मदद मिली है. इस मौके पर कनीय अभियंता दीपक नाग, नितेश कुमार एवं स्वास्थ्यकर्मी सेनेन केरकेट्टा, मनोज फेड्रिक कैथा के अलावा सशस्त्र बल के जवान भी उपस्थित थे.

ग्रुप में जो थे शामिल :

बिटू कुमार चौधरी, कम्छ्या कुमार चौधरी, अर्जुन चौधरी, अनिल चौधरी, अरुण कुमार, अशोक कुमार, उपेंद्र यादव, दीपक कुमार, रविन्द्र कुमार, राकेश कुमार, अमर कुमार, वीरेंद्र कुमार, संतोष कुमार, अलोक कुमार और अजित कुमार.

इसे भी पढ़ेंः लॉकडाउन में पत्रकारों और जरुरतमंदों पर भी लाठी भांजने को उतावली पुलिस, सांसद और विधायकों ने जतायी चिंता

न्यूज विंग की अपील – देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like