Jharkhandlok sabha election 2019Ranchi

काफी आसान हो गयी है वोटिंग प्रक्रिया, वोटर पर्ची नहीं रहने पर भी लोग कर रहे हैं सहयोग

विज्ञापन

निर्वाचन आयोग के मतदाता जागरुकता अभियान से लोगों में आयी है चेतना

वोटर स्लीप निकालने की आयोग की कोशिशें काफी हद तक रही सफल

चार मिनट में एक वोटर डाल सका अपना वोट

advt

वीवीपैट में यह भी देखा कि किस पार्टी को किया गया है मतदान

Ranchi: लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर निर्वाचन आयोग का मतदाता जागरुकता कार्यक्रम काफी सफल रहा है. इसका नतीजा सोमवार छह मई को मतदान केंद्रों में स्पष्ट दिखा. पहले की तुलना में वोटिंग प्रक्रिया भी काफी आसान हो गयी है.

इसे भी पढ़ेंःलोकसभा चुनाव 2019ः झारखंड के माननीयों ने भी डाला वोट, देखें तस्वीर

इस बार वीवीपैट के जरिये मतदाताओं ने अपनी आंखों से देखा कि उन्होंने किस दल को वोट किया. वोटिंग स्लीप का मिलान करने से लेकर वोट डालने में एक मतदाता को तीन से चार मिनट लगे.

adv

सोशल मीडिया में प्रचारित किये गये वोटर स्लीप निकालने और अपने मतदान केंद्र को खोजने के तरीके से कई मतदाताओं को फायदा पहुंचा.

श्रेयसी मिश्रा और उनके पति अशोक मिश्र भी इसी तरह पोलिंग बूथ 453 में सुबह 6.45 बजे पहुंचे. श्रेयरी मिश्रा के पास मोबाइल में वोटर परची का डाउनलोड स्लीप था, जबकि उनके पति के पास किसी तरह की पर्ची नहीं थी.

वोटर क्रमांक की वजह से उन्हें मतदान केंद्र पर उपस्थित मतदान सहयोगी कर्मियों ने तुरंत उनकी पर्ची काट कर उन्हें वोट डालने में मदद की.

इसे भी पढ़ेंःलोकसभा चुनाव 2019 : पांचवे फेज में इन दिग्गजों की साख दांव पर, कांटे की है टक्कर

यहां यह बताते चलें कि राज्य निर्वाचन पदाधिकारी की तरफ से राज्य भर के मतदाताओं को मतदान केंद्र जाने से पहले वोटर पर्ची निकालने और अपने बूथ का सही पता मालूम करने की लगातार जानकारी दी जा रही थी.

राज्य निर्वाचन पदाधिकारी ने इसके लिए सभी जिलों में मतदाता जागरुकता अभियान (स्वीप) भी चलवाया. इतना ही नहीं, वोटर हेल्पलाइन 1950 पर मतदान केंद्र की जानकारी लेने और एसएमएस भेज कर मतदाता सूची में नाम की पुष्टि करने के तरीके भी व्यापक रूप से प्रचारित कराये गये.

इसके अलावा नेशनल वोटर स्लीप प्रोग्राम (एनवीएसपी) से मतदाता पर्ची को निकालने के तरीकों को भी कई मतदाताओं ने अपनाया. इसमें इपीक नंबर (मतदाता पहचान पत्र क्रमांक संख्या) के जरिये मतदान केंद्र और मतदाता की पूरी विवरणी दिये जाने का प्रावधान किया गया है.

इसे भी पढ़ेंःलोकसभा चुनाव 2019 : पुलवामा में ग्रेनेड धमाका, बंगाल में TMC कार्यकर्ताओं ने बीजेपी प्रत्याशी को पीटा

सभी जिलों के जिला निर्वाची पदाधिकारियों ने भी बूथ लेवेल ऑफिसरों को भी मतदाताओं के लिए वोटर पर्ची निर्गत करने का प्रशिक्षण भी दिलवाया है. इसका ही नतीजा है कि मतदान का प्रतिशत सभी संसदीय सीटों में 2014 की तुलना में बढ़ रहा है.

अपने मताधिकार का प्रयोग करें, वोट करें. 6 मई को लोकसभा चुनाव, 2019 के लिए रांची मे मतदान करें और एक सशक्त नागरिक होने का फर्ज़ निभाएं .

अपना मतदान केंद्र जानने के लिए
1) कॉल करें 1950
2) या लोग ऑन करें https://electoralsearch.in
3) या इनस्टॉल करें Voter Helpline App
4) या टाइप करें EPIC स्पेस वोटर कार्ड नंबर (EPIC xxxxxxxx ) और भेजे 51969 या 166

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button