JharkhandLead NewsNEWSRanchiTOP SLIDER

मनरेगा घोटाला मामले में विशाल चौधरी से कल होगी पूछताछ, कई अफसरों की बढ़ सकती है मुश्किलें

Ranchi : झारखंड के अलग-अलग जिलों में मनरेगा घोटाले मामले में ईडी की टीम ने 6 मई को छापेमारी की थी. इस छापेमारी के दौरान ईडी की टीम को कई अहम दस्तावेज और 19 करोड़ से अधिक कैश की बरामदगी हुई थी. इस मामले में ईडी की टीम ने सीए सुमन सिंह और आईएएस पूजा सिंघल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. मनरेगा घोटाले मामलें में ईडी की टीम ने विशाल चौधरी के ठिकाने पर भी छापेमारी की थी और उससे एक बार पूछताछ करने के बाद फिलहाल छोड़ दिया था. हालांकि दूबारा पूछताछ के लिए समन जारी किया लेकिन विशाल चौधरी ने ईडी को सहयोग नहीं किया. विशाल चौधरी से ईडी कल यानी 28 नवंबर को पूछताछ करने वाली है.

इस पूछताछ के बाद झारखंड के कई अफसरों का नाम सामने आ सकतें हैं. बात देें विशाल चौधरी के झारखंड के कई अफसरों के साथ अच्छे संबंध हैं और अफसरों के हर शौक को पूरा करने में विशाल चौधरी की महत्वपूर्ण भूमिका हुआ करती थी. विशाल चौधरी अपने अशोक नगर के आवास पर कई अफसरों को पार्टी दिया करता था और रात को रंगीन बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता था.

विशाल चौधरी की बिजली कंपनियों में कोई भी अहम फैसला हो या ट्रांसफर-पोस्टिंग का काम हो, उसमें विशाल चौधरी ही डील करता था. अंतिम रूप से नाम भेजे जाने के बाद ही किसी पदाधिकारी का पदस्थापन हो पाता था. महत्वपूर्ण टेंडर भी मैनेज करने का काम विशाल करता था. इसी तरह हाल तक गृह विभाग की ट्रांसफर-पोस्टिंग में भी विशाल की चलती थी. उसके ठिकाने पर तमाम आइपीएस, आईएएस अधिकारियों के जमावड़ा लगता था.

बता दें कि विशाल चौधरी अपनी पत्नी के साथ थाईलैंड भागने के फिराक में था लेकिन दिल्ली पुलिस ने इस मामले की जानकारी ईडी को दी, जिसके बाद ईडी के अधिकारियों ने दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंच कर पूछताछ के लिए 28 नवंबर को रांची के ईडी कार्यालय बुलाया है.

इसे भी पढ़ें: रांची : बड़ा तालाब स्थित स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा अंधेरे में, अधिकारी भी नहीं ले रहे सुध

Related Articles

Back to top button