न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मंझी थान के लिए जमीन दान करने वाली महिला को ग्रामीणों ने किया सम्मानित

सोहराय पर्व में हर साल सम्मानित करने का निर्णय

134

Dumka: पुराना दुमका स्थित जरुवाडीह गांव में मंझी थान के लिए अपनी जमीन देने वाली एलबिना किस्कू को ग्रामीणों ने सम्मानित किया. इस दौरान फूल माला पहनाकर उनका स्वागत किया गया. साथ ही पंची-पहान(संताल महिला आदिवासी वेशभूषा) के साथ अन्य उपहार दिए गए.

इसे भी पढ़ेंःप्रिया सिंह की हत्या की वजह प्रधानमंत्री आवास योजना में हुए 1.80 करोड़ का घोटाला तो नहीं

क्यों दी जमीन

hosp1

दरअसल, जरूवाडीह गांव में सड़क निर्माण के कारण मंझी थान सड़क के समीप आ गया था. जिससे लोगों को धार्मिक अनुष्ठानों में परेशानी हो रही थी, जिसे देखते हुए गांव की एलबिना किस्कू ने मंझी थान को सड़क से दूर बनाने के लिए अपनी जमीन दान की. सड़क बनने के कारण पहले स्थित मंझी थान सड़क से बहुत नजदीक हो गया था और घर नहीं बना हुआ था.

मौके पर दानकर्ता एलबिना ने ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि यह जमीन मैं यहां के संतालियों के पूज्यस्थल मंझी थान के लिए दान करती हूं. यह किसी व्यक्ति विशेष के लिये नहीं, पूरे समाज के लिए है. आप सभी यहां मंझी थान का निर्माण कर, पूजा-पाठ करें और संतालों की सभ्यता और संस्कृति को बचाए रखे.

इसे भी पढ़ें – 21 अगस्त को अपहृत प्रिया सिंह के भाई को गढ़वा पुलिस ने कहा-नौटंकी करते हो, 29 अगस्त को पलामू में मिली डेड बॉडी

ग्रामीण हर साल करेंगे सम्मानित

सम्मानित एलबिना किस्कू

उनके इस नेक काम के लिए सभी ग्रामीणों ने सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया कि हर वर्ष संतालों के महापर्व सोहराय में जमीन दानकर्ता एलबिना किस्कू को सम्मानित किया जायेगा और नवनिर्मित होने वाले मंझी थान में उनका नाम भी लिखा जायेगा. नये स्थल में मंझी थान निर्माण का निर्णय लिया गया है.

इसे भी पढ़ें – पलामू पुलिस को खुली चुनौती, सात दिनों में पांचवी हत्या

कार्यक्रम में थे मौजूद

इस कार्यक्रम में मंझी गोगो (प्रधान की पत्नी), निलमुनी हांसदा, वार्ड सरोजनी मरांडी, नायकी(पुजारी) सकल मुर्मू, संतोषिनी मुर्मू, जॉन हेम्ब्रोम, सुहागनी सोरेन, स्टेंशिला हेम्ब्रोम, देना हेम्ब्रोम, मेरी सोरेन, फूलमुनि किस्कू, राजेंद्र हेम्ब्रोम, कलम सोरेन, लुगुय सोरेन, लुखिराम मुर्मू, उज्जवल हेम्ब्रोम, संतोष हेम्ब्रोम, समीर मुर्मू, बबलू मुर्मू, दिलीप सोरेन, कोशल मुर्मू, आनंद हेम्ब्रोम, अर्जुन सोरेन, भीम मुर्मू, निर्मल टुडू, राजू मुर्मू, विनोद मरांडी समेत काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहें.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: