GiridihLead News

पानी को ले ग्रामीणों ने गिरिडीह-डुमरी के चैताडीह रोड किया जाम, ट्रीटमेंट प्लांट में जड़ा ताला

पुलिस ने ग्रामीणों को समझा कर हटवाया जाम

Giridih : पेयजलापूर्ति ठप रहने और पाइप लाइन से नया कनेक्शन नहीं मिलने से गुस्साये लोगों ने एक बार फिर गिरिडीह-डुमरी रोड के चैताडीह रोड जाम कर दिया. रोड जाम करने के साथ आक्रोशित ग्रामीणों ने चैताडीह के वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में ताला भी जड़ दिया. इस वजह से प्लांट में वाटर सप्लाई के कार्य में लगे कर्मी बाहर ही रह गये.

जानकारी के अनुसार शनिवार की सुबह ग्रामीणों ने चैताडीह रोड जाम किया तो वाहनों की लंबी कतार लग गई. स्थानीय ग्रामीणों ने बांस-बल्ली लगाकर रोड जाम कर गिरिडीह नगर निगम के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इन्होंने नगर आयुक्त के नाम ज्ञापन सौंपा. रोड जाम में चैताडीह के ग्रामीणों के साथ महिलाएं और बच्चे भी शामिल थे.

इसे भी पढ़ें :पटना पहुंचे गिरिराज ने सवालों से बनायी दूरी, कहा- अब लोग केवल काम चाहते हैं

ram janam hospital
Catalyst IAS

इस दौरान जानकारी मिलने के बाद मुफ्फसिल थाना की पुलिस भी ग्रामीणों से वार्ता करने पहुंची. पुलिस ने ग्रामीणों को समझाया लेकिन आक्रोशित ग्रामीण किसी की सुनने को तैयार नहीं थे.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें :लालू के करीबी जगदानंद के इस्तीफे पर तेज प्रताप ने कहा- हम हैं क्या जो हमसे नाराजगी होगी

नल का नया कनेक्शन नहीं मिला

इधर ग्रामीणों ने नगर निगम पर आरोप लगाते हुए कहा कि चैताडीह में ट्रीटमेंट प्लांट रहते और पाइप लाइन होते हुए भी पिछले दो साल से स्थानीय ग्रामीणों को नल का नया कनेक्शन नहीं मिला है. जबकि इसी चैताडीह ट्रीटमेंट प्लांट से कई स्थानों पर पेयजलापूर्ति की जा रही है. लेकिन चैताडीह, क़मारशाली और बक्सीडीह इलाके के ग्रामीणों को ना तो नया कनेक्शन ही मिला है और ना ही पेयजलापूर्ति हो पा रही है.

ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले बार भी इन मांगों को लेकर रोड जाम किया गया था, लेकिन नगर निगम ने कोई पहल तक नहीं किया. हर बार नगर निगम लाठी के बल पर रोड जाम हटवाती रही है. इस बीच काफी समझाने के बाद ग्रामीणों ने रोड जाम हटाया.

इसे भी पढ़ें :देश में यूनिफॉर्म सिविल कोड लागू करने का यही है सही समय- हाईकोर्ट

 

Related Articles

Back to top button