National

विजय माल्या प्रत्यर्पण मामला: सीबीआई के संयुक्त निदेशक के नेतृत्व में एक टीम ब्रिटेन रवाना

New Delhi: सीबीआई के संयुक्त निदेशक एस साई मनोहर के नेतृत्व में अधिकारियों की एक टीम भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण मामले में एक अहम सुनवाई में शामिल होने के लिए रविवार को लंदन रवाना हुई. सूत्रों ने यह जानकारी दी.

भारतीय जांच एजेंसियां माल्या को प्रत्यर्पित करा स्वदेश वापस लाने की कोशिश कर रही है. मामले की सुनवाई सोमवार को लंदन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत करेगी. मनोहर विशेष निदेशक राकेश अस्थाना की जगह लेंगे, जो अब तक सुनवाई में शामिल हो रहे थे. सरकार ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा से विवाद होने के बाद अस्थाना को सभी अधिकारों से वंचित कर दिया तथा उन्हें जबरन छुट्टी पर भेज दिया था.

ईडी के दो अधिकारी भी टीम के साथ

ram janam hospital
Catalyst IAS

जानकारी के अनुसार प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दो अधिकारी भी सीबीआई अधिकारी के साथ हैं. मनोहर इससे पहले अस्थाना के नेतृत्व वाली एसआईटी का हिस्सा थे. माल्या धन शोधन और लोन की रकम दूसरे मद में खर्च करने के अलावा 9,000 करोड़ रूपये के लोन की अदायगी नहीं करने के मामले का सामना कर रहा है. वह लंदन में रह रहा है.  माल्या अपने खिलाफ सीबीआई के लुकआउट नोटिस को कमजोर किये जाने का फायदा उठाते हुए मार्च 2016 में ब्रिटेन भाग गया था.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

गौरतलब है कि हाल ही में माल्या ने इस मुद्दे पर ट्वीट कर कहा था, ‘‘मैंने एक रुपया भी उधार नहीं लिया. लोन किंगफिशर एयरलाइन ने लिया था. कारोबार वास्तव में और दुखद रूप से नाकाम होने पर यह धन डूबा. गारंटर होना धोखाधड़ी नहीं है.’’

Related Articles

Back to top button