JamshedpurJharkhand

संसद रत्न से सम्मानित हुए विद्युत महतो, बोले- यह पुरस्कार जमशेदपुर लोकसभा क्षेत्र की जनता को समर्पित

Jamshedpur :  सांसद विद्युत वरण महतो को शनिवार को संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया. नई दिल्ली स्थित महाराष्ट्र सदन में मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा एवं केंद्रीय संसदीय कार्य राज्य मंत्री अर्जुन मेघवाल ने उन्हें सम्मानित किया. सम्मानित होने के उपरांत सांसद विद्युत वरण महतो ने कहा कि यह पुरस्कार जमशेदपुर लोकसभा क्षेत्र की जनता को समर्पित है. यह पुरस्कार जमशेदपुर लोकसभा क्षेत्र के गरीब, किसान, मजदूर, युवा साथियों के साथ-साथ भाजपा के एक एक देवतुल्य कार्यकर्ताओं को समर्पित है. जमशेदपुर की जनता ने जिस विश्वास और स्नेह के साथ लोकसभा में भेजा, हमेशा उस पर खरा उतरने का प्रयास करता रहता हूं. उन्होंने अपनी प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा कि इसका सारा श्रेय देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है, जिनके नेतृत्व, देखरेख और मार्गदर्शन में लोकसभा में बहुत कुछ सीखने, समझने और जानने का मौका मिला है. सांसद ने कहा कि उनका हर वक्त यह प्रयास रहता है कि वे हर पल जनता के लिए अपने को समर्पित रखें. इसके लिए वे शहर से लेकर सुदूर देहात तक दिन रात का फर्क नहीं देखते हैं.
उल्लेखनीय है कि प्राइम पॉइंट फाउंडेशन के द्वारा संसद रत्न अवार्ड के लिए उनका चयन किया गया था. 17वीं लोकसभा में बेहतरीन कार्य करने वाले 11 सांसदों का चयन किया गया था. इनमें वीरप्पा मोइली एवं सुप्रिया सुले भी शामिल हैं. चयन समिति के चेयरमैन केन्द्रीय संसदीय राज्य कार्य मंत्री अर्जुन मेघवाल हैं और को-चेयरमैन पूर्व चुनाव आयुक्त टीएस कृष्णमूर्ति हैं. यह पुरस्कार पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न डॉ एपीजे अब्दुल कलाम के सुझाव पर प्रारंभ किया गया था और 2011 से अब तक 75 सांसद को सम्मानित किया जा चुका है. 17वीं लोकसभा में शीतकालीन सत्र की समाप्ति तक सांसदों के कार्यों के मूल्यांकन के उपरांत उनका चयन किया गया है. शनिवार को पुरस्कार प्राप्त करने वालों में सौगत राय पश्चिम बंगाल, सुधीर गुप्ता मध्य प्रदेश, कुलदीप राय शर्मा अंडमान निकोबार, अमर पटनायक ओडिशा, फोजिया खान महाराष्ट्र, डॉक्टर हीना गावित महाराष्ट्र एवं संसदीय समिति से वीरप्पा मोइली, पीसी गद्दी एवं जयंत सिन्हा शामिल हैं.

ये भी पढ़ें सरयू के विस क्षेत्र में होगी चार जाहिरा स्थल व श्मशान भूमि की घेराबंदी, विभाग से आए 45 लाख

Related Articles

Back to top button